LTC cash voucher scheme का लाभ उठाने के लिए कई बिल दे सकते हैं सरकारी कर्मचारी

भारतीय रुपये के लिए प्रतीकात्मक तस्वीर (PC: jagran)
Publish Date:Sun, 25 Oct 2020 04:30 PM (IST) Author: Pawan Jayaswal

नई दिल्ली, पीटीआइ। वित्त मंत्रालय ने रविवार को जानकारी दी है कि केंद्र सरकार के कर्मचारी अवकाश यात्रा रियायत (LTC) वाउचर योजना का फायदा उठाने के लिए कई सारी वस्तुओं और सेवाओं के बिल दे सकते हैं। मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि एलटीसी वाउचर योजना के तहत कर्मचारियों द्वारा दिये जाने वाले बिल उनके स्वयं के नाम पर होने आवश्यक है। वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले व्यय विभाग ने योजना के बारे में सवालों का एक सेट जारी किया है। इस सेट में कर्मचारियों की कई दुविधाओं का हल दिया गया है।

सवालों के इस सेट के अनुसार, कर्मचारी छुट्टियों को भुनाए बिना ही मान्य एलटीसी किराये का प्रयोग कर योजना का फायदा उठा सकते हैं। गौरतलब है कि सरकार ने फेस्टिव सीजन को देखते हुए 12 अक्टूबर को एलटीसी नकद वाउचर योजना की घोषणा की थी। सरकारी कर्मचारियों को एलटीसी वाउचर योजना का फायदा उठाने के लिए ऐसे प्रोडक्ट्स और सर्विसेज खरीदनी होंगी, जिन पर 12 फीसद या अधिक जीएसटी लगता है।

इससे पहले तक कर्मचारियों को इस योजना के लाभ सिर्फ यात्रा पर ही मिलता था। वित्त मंत्रालय का कहना है कि कर्मचारी छुट्टियों को भुनाए बिना ही इस योजना का फायदा उठा सकते हैं। एएफक्यू (बार-बार पूछे जाने वाले सवालों) के सेट में एक सवाल यह पूछा गया कि किसी कर्मचारी के परिवार के चार सदस्य एलटीसी के लिए पात्र हैं, तो क्या कम सदस्यों पर भी योजना का लाभ लिया जा सकता है, एएफक्यू में कहा गया है कि ऐसे मामलों में कर्मचारी योजना के पात्र परिवार के एलटीसी हिस्से के बराबर आंशिक लाभ ले सकते हैं। 

मंत्रालय ने कहा, 'यह योजना वैकल्पिक है, इसलिए अगर किसी सदस्य के एलटीसी किराए का प्रयोग इस उद्देश्य के लिए नहीं हो पाता है, तो वे सदस्य एलटीसी के मौजूदा निर्देशों के अंतर्गत एलटीसी ले सकते हैं।' मंत्रालय ने एएफक्यू में बताया कि एलटीसी वाउचर योजना के अंतर्गत कर्मचारी कई सारे बिल दे सकता है, लेकिन इनमें खरीद मार्च में समाप्त होनी चाहिए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.