ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए दिवाली शुरू; छोटे कारोबारी ऑनलाइन को दे रहे तरजीह, 60 प्रतिशत से अधिक ऑर्डर छोटे शहरों से

Diwali Begins For Amazon And Flipkart; 60 Percent Customers Are From Small Cities (Pic: pixabay.com)
Publish Date:Tue, 20 Oct 2020 09:39 AM (IST) Author: Manish Mishra

राजीव कुमार, नई दिल्ली। ऑफलाइन कारोबार के विपरीत ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर कोरोना का कोई असर नहीं दिख रहा है। यहां खरीदारों और विक्रेताओं की दिवाली शुरू हो गई है। इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम से लेकर अपैरल और फर्नीचर तक की जबरदस्त खरीदारी चल रही है। ई-कॉमर्स कारोबार पर रेडसीयर की रिपोर्ट के मुताबिक इस साल त्योहारी सीजन में भारत की ई-कॉमर्स कंपनियां 7,000 करोड़ डॉलर का कारोबार कर सकती हैं। पिछले वर्ष त्योहारी सीजन में ई-कॉमर्स कंपनियों ने 3,800 करोड़ डॉलर का कारोबार किया था। इसकी सबसे बड़ी वजह है कि अब ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म का दायरा सिर्फ मेट्रो या बड़े शहरों तक सीमित नहीं रह गया है। 

अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसे ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर इस वर्ष त्योहारी सीजन में 60 प्रतिशत से अधिक खरीदारी छोटे शहरों से हो रही है। इसका फायदा उठाने के लिए छोटे कारोबारी भी तेजी से ई-कॉमर्स कंपनियों के प्लेटफार्म से जुड़ रहे हैं। तभी पिछले एक महीने में फ्लिपकार्ट के प्लेटफॉर्म से 2 लाख नए छोटे कारोबारी जुड़े हैं। पिछले डेढ़ महीनों में फ्लिपकार्ट एप को 3.6 करोड़ बार डाउनलोड किया गया। वहीं पिछले 48 घंटों में 10 लाख लोगों ने अमेजन के एलेक्सा से प्रोडक्ट की तलाश में मदद मांगी।

अमेजन पर चल रहे ग्रेट इंडियन फेस्टिवल के 48 घंटों के दौरान 5,000 से अधिक विक्रेताओं ने 10 लाख से अधिक उत्पादों की बिक्री की। इस दौरान 14 लाख ग्राहकों को ग्रेट इंडियन फेस्टिवल का कूपन मिला। इस दौरान कंपनी के प्लेटफॉर्म पर देश के 98.4 प्रतिशत पिनकोड से ऑर्डर आए। गौरतलब है कि वहीं फ्लिपकार्ट पर बिग बिलयन डेज के तहत बिक्री चल रही है। ई-कॉमर्स कंपनियों के मुताबिक महंगे मोबाइल फोन, लैपटॉप, डेस्कटॉप जैसी इलेक्ट्रॉनिक्स वस्तुओं की काफी मांग है। तभी फ्लिपकार्ट और अमेजन पर फोन आइटम में आई-फोन की बिक्री सबसे अधिक रही। सैमसंग नोट, एलजी और गूगल फोन की भी खासी मांग देखी गई। इसकी एक वजह यह भी है कि लगभग सभी बैंक ई-कॉमर्स प्लेटकॅार्म से खरीदारी के लिए ब्याज मुक्त ईएमआइ सुविधा दे रहे हैं। 

अमेजन का देश के 24 बैंकों से ईएमआइ सुविधा संबंधित करार हुआ है। फ्लिपकार्ट के मुताबिक 56 प्रतिशत महंगे आइटम की खरीदारी ईएमआइ पर की जा रही है। इनमें छोटे शहरों से अधिक मांग निकल आ रही है। विशेषज्ञों के मुताबिक कोरोना संक्रमण को देखते हुए छोटे शहरों के खरीदार भी ऑनलाइन खरीदारी को प्राथमिकता दे रहे हैं।

हालांकि ऑफलाइन रिटेलिंग के मामले में बिक्री अभी भी पिछले वर्ष के स्तर तक नहीं पहुंच पाई है। वी-मार्ट रिटेल के सीएमडी ललित अग्रवाल ने बताया कि पिछले दो-तीन महीनों की तुलना में उनकी बिक्री बढ़ी है, लेकिन पिछले वर्ष के मुकाबले बिक्री में बढ़ोतरी नहीं है। अपैरल, कंज्यूमर गुड्स के रिटेल कारोबारियों ने बताया कि उनकी बिक्री पिछले साल के 80-90 प्रतिशत के आसपास है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.