शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद, सेंसेक्स अब भी 59 हजार के पार, निफ्टी 17600 के नीचे आया

शुक्रवार को शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ। आज कारोबार के दौरान बाजार ने नया रिकॉर्ड बनाया था लेकिन अंत तक यह कायम ना रह सका। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 125.27 अंकों की गिरावट के साथ 59015.89 के स्तर पर बंद हुआ।

NiteshFri, 17 Sep 2021 03:57 PM (IST)
Closing Bell Sensex ends 125 points lower Nifty below 17600

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। आज सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन यानी शुक्रवार को शेयर बाजार लाल निशान पर बंद हुआ। आज कारोबार के दौरान बाजार ने नया रिकॉर्ड बनाया था, लेकिन अंत तक यह कायम ना रह सका। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 125.27 अंकों की गिरावट के साथ 59,015.89 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 44.35 अंकों की गिरावट के साथ 17,585.15 के स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी ने इंट्रा-डे 17,792.95 के जीवन भर के उच्चतम स्तर को छुआ।

आज के प्रमुख शेयरों में भारती एयरटेल, कोटक बैंक, एचडीएफसी बैंक और मारुति के शेयर हरे निशान पर बंद हुए। वहीं टाटा स्टील, टीसीएस, एसबीआई, कोल इंडिया और हिंडाल्को के शेयर लाल निशान पर बंद हुए।

शुरुआती कारोबार में शेयर बाजार हाईएस्ट स्तर पर खुला था। सेंसेक्स 281.23 अंक बढ़कर 59422.39 के स्तर पर खुला। वहीं निफ्टी 79.70 अंकों की तेजी के साथ 17709.20 के स्तर पर खुला था।  इसके अलावा शंघाई, टोक्यो, सियोल और हांगकांग में शेयर बढ़त के साथ बंद हुए। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.54 फीसद फिसलकर 75.26 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

जानकारों की मानें तो यह तेजी सितंबर भर बनी रहेगी। ब्रोकरेज हाउसेज का कहना है कि अक्टूबर में इंडेक्‍स में करेक्‍शन देखने को मिल सकता है।

शेयर बाजारों में पिछले तीन दिन से जारी तेजी के चलते निवेशकों की संपत्ति 4.46 लाख करोड़ रुपये बढ़ी है। रिकॉर्ड तेजी के साथ BSE में लिस्टेड कंपनियों का बाजार पूंजीकरण पिछले तीन दिनों में 4,46,043.65 करोड़ रुपये उछलकर रिकार्ड 2,60,78,355.12 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

रुपया शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले छह पैसे की तेजी के साथ 73.46 पर पहुंच गया। विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि अमेरिकी मुद्रा की व्यापक कमजोरी और विदेशी कोषों की लगातार आवक ने रुपये को मजबूती दी, जबकि कच्चे तेल की कीमतों में तेजी ने इस बढ़त को सीमित किया।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया डॉलर के मुकाबले 73.49 पर खुला और फिर अपने पिछले बंद भाव के मुकाबले छह पैसे बढ़कर 73.46 पर पहुंच गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.