इन तीन बैंको के चेक बुक अगले महीने से हो जाएगी इनवैलिड, चेक करें कहीं आपका बैंक भी तो नहीं शामिल है इस लिस्ट में

अगर आपका अकाउंट इलाहाबाद बैंक ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया में है तो आपको नए चेक बुक के लिए आवेदन करना होगा। क्योंकि आपका मौजूदा चेक बुक 1 अक्टूबर 2021 से इनवैलिड हो जाएगा।

Abhishek PoddarSat, 25 Sep 2021 05:52 PM (IST)
अगर आपका खाता इन तीन में है तो आपका चेक बुक 1 अक्टूबर 2021 से इनवैलिड हो जाएगा

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अगर आपका खाता भी सार्वजनिक बैंक के तीन बैंकों, इलाहाबाद बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया में है तो, आपको नए चेक बुक के लिए आवेदन करना होगा। क्योंकि आपका मौजूदा चेक बुक 1 अक्टूबर 2021 से इनवैलिड हो जाएगा। आपको बता दें कि, इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय हो चुका है। जबकि ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में मिला दिया गया है।

इंडियन बैंक ने इलाहाबाद बैंक के ग्राहकों को नई इंडियन बैंक चेक बुक के लिए आवेदन करने के लिए कहा है। इंडियन बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ग्राहकों को यह जानकारी दी है। इंडियन बैंक ने अपने ट्वीट में यह लिखा है कि, "पूर्व में इलाहाबाद बैंक के ग्राहक नई चेक बुक का ऑर्डर देकर इंडियन बैंक के साथ, एक सहज बैंकिंग अनुभव का आनंद लेना जारी रख सकते हैं। क्योंकि 1 अक्टूबर, 2021 से पुराने चेक बुक स्वीकार्य नहीं होंगे।"

इलाहाबाद बैंक के ग्राहक मोबाइल बैंकिंग या बैंक शाखा के माध्यम से इंडियन बैंक की नई चेक बुक प्राप्त कर सकते हैं।

इसी तरह, पंजाब नेशनल बैंक ने भी अपने ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहकों को, अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से नई पीएनबी पासबुक के लिए आवेदन करने के लिए कहा है। बैंक ने अपने ऑफीशियल ट्वीट में लिखा है कि, "ईओबीसी और ईयूएनआई की पुरानी चेक बुक 01-10-2021 से बंद होने जा रही है। कृपया eOBC और eUNI की अपनी पुरानी चेक बुक को PNB चेक बुक के साथ बदलें। अपनी शाखा में अपनी नई चेक बुक प्राप्त करें या एटीएम/आईबीएस/पीएनबी के माध्यम से आवेदन करें।"

इसके अलावा पीएनबी के ट्वीट में कहा गया है कि, "सभी ग्राहकों से अनुरोध है कि अब से अपडेटेड IFSC और MICR के साथ नई पीएनबी चेक बुक का उपयोग करें ताकि किसी भी लेनदेन संबंधी असुविधा से बचा जा सके।"

इसके अलावा, भारत सरकार (भारत सरकार) की बैंक विलय योजना के कारण, सिंडिकेट बैंक का केनरा बैंक में विलय कर दिया गया, जबकि कॉर्पोरेशन बैंक और आंध्रा बैंक को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में मिला दिया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.