Jobs in IT Sector: 96 हजार लोगों को मिलेगी नौकरी, पांच आईटी कंपनियां 2021-22 में कर रही भर्तियां : नासकॉम

नासकॉम ने बताया कि भारत में बिजनेस प्रोसेस मैनेजमेंट (बीपीएम) सेक्टर जिसे ऑटोमेशन के लिए परिपक्व क्षेत्र कहा जाता है 14 लाख से ज्यादा लोगों (घरेलू और इन-हाउस को छोड़कर) को रोजगार देता है। मार्च 2021 तक आईटी-बीपीएम क्षेत्र में कुल मिलाकर 45 लाख लोग काम कर रहे हैं।

NiteshFri, 18 Jun 2021 09:02 AM (IST)
90 लाख लोग कम कौशल वाली सेवाओं और बीपीओ सेवाओं में तैनात हैं

नई दिल्ली, पीटीआइ। आईटी क्षेत्र की टॉप पांच कंपनियां मौजूदा वित्त वर्ष में 96 हजार से अधिक कर्मचारियों को नौकरी देंगी। आईटी कंपनियों का शीर्ष निकाय नासकॉम ने कहा कि इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी क्षेत्र कुशल प्रतिभा में सबसे अधिक नियुक्तियां करने वाला क्षेत्र बना हुआ है। हाल ही में बैंक ऑफ़ अमेरिका ने अपनी एक रिपोर्ट में ऑटोमेशन बढ़ने से सॉफ्टवेयर कंपनियों द्वारा 2022 तक तीस लाख कर्मचारियों की छंटनी करने का अनुमान जताया है। इनमें से ज्यादातर तकनीक क्षेत्र में होंगी।

नासकॉम ने एक बयान में कहा, 'टेक्नोलॉजी के विकास और ऑटोमेशन में वृद्धि के साथ ही पारंपरिक आईटी नौकरियों और भूमिकाओं की प्रकृति समग्र रूप से विकसित होगी जिससे नई नौकरियां आएंगी। आईटी क्षेत्र ने कुशल प्रतिभा क्षेत्र में सबसे अधिक नियुक्ति की है और वित्त वर्ष 2021 में 1,38,000 लोगों को नौकरी दी है।' नासकॉम ने जोर देते हुए कहा कि आईटी कंपनियों के वित्त वर्ष में 2021-22 में 96 हजार से अधिक नियुक्ति की मजबूत योजना तैयार की है।

नासकॉम ने बताया कि भारत में बिजनेस प्रोसेस मैनेजमेंट (बीपीएम) सेक्टर, जिसे ऑटोमेशन के लिए परिपक्व क्षेत्र कहा जाता है, 14 लाख से ज्यादा लोगों (घरेलू और इन-हाउस को छोड़कर) को रोजगार देता है। मार्च 2021 तक आईटी-बीपीएम क्षेत्र में कुल मिलाकर 45 लाख लोग काम कर रहे हैं।

एसोसिएशन ने कहा कि ऑटोमेशन और आरपीए (रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन) पिछले तीन वर्षों में परिपक्व हो रहे हैं और इससे बीपीएम क्षेत्र के लिए नौकरियों का सृजन हुआ है।

हाल ही में बैंक ऑफ़ अमेरिका ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि घरेलू सॉफ्टवेयर कंपनियां 2022 तक 30 लाख कर्मचारियों की छंटनी करेंगी। इससे इन कंपनियों को 100 अरब डॉलर की बचत होगी, कंपनियों इन बचत का ज्यादातर हिस्सा वेतन पर खर्च करती हैं। नासकॉम के अनुसार, घरेलू आईटी क्षेत्र करीब 1.6 करोड़ लोगों को रोजगार देता है जिनमें से 90 लाख लोग कम कौशल वाली सेवाओं और बीपीओ सेवाओं में तैनात हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.