top menutop menutop menu

बारिश के बाद नदियों के जलस्तर में वृद्धि, फसलें डूबीं

पश्चिम चंपारण। चौतरवा में शुक्रवार की अहले सुबह हुई बारिश के बाद कई छोटी नदियों के जलस्तर में वृद्धि होने से बाढ़ की स्थिति दिख रही है। हरहा, सिकरहना व मंगुराहा नदी के जलस्तर में वृद्धि होने से तटवर्ती सैकड़ों एकड़ में लगी फसल डूब गई है। जबकि गंडक नदी व मसान नदी के जलस्तर में मामूली वृद्धि हुई है। वहीं बारिश के पानी से सरेही धान की फसल को भारी नुकसान बताया जा रहा है। कौलाची गांव के किसान प्रेम चौधरी, भोला यादव, नरसिंह चौधरी, प्रतापपुर के राजन शुक्ल, पतिलार के बैरिस्टर मिश्र, रामचंद्र यादव, राजा दूबे, चौतरवा के श्रीकांत हालदार, गौरीशंकर राव आदि बताते हैं कि अभी बरसात की शुरुआत हुई है। यदि बारिश होने के बाद धूप निकल आये, समय-समय पर सामान्य बारिश हो तो किसानों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी। परंतु लगातार भारी बारिश होने पर बाढ़ की स्थिति बन सकती है। पतिलार, बसवरिया, सिसवा, तरकुलवा आदि आधा दर्जन सरेहों में जलजमाव से बढ़ का दृश्य उत्पन्न हो गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.