top menutop menutop menu

राजहवा बांध 100 मीटर के दायरे में ध्वस्त, 20 एकड़ खेती योग्य जमीन नदी के गर्भ में समाई

बगहा। बारिश थमते ही पहाड़ी नदियों के जलस्तर में लगातार कमी हो रही है। इससे मसान सहित सिगहा, सुखौडा आदि नदियां रामनगर के सपही और गुदगुदी पंचायत में कटाव कर रही हैं। शनिवार रात सपही पंचायत के फगुनहटा, इमरती कठहरवा, गुदगुदी पंचायत के हरिहरपुर गांव में घुसा बाढ़ का पानी अब उतरने लगा है। सपही के चुरिहरवा, फगुनहटा, इमरती कटहरवा, चमरडीहा बड़गांव के खलवा टोला, सेवरही बरवा, हरिहरपुर आदि गांवों में नदी फसल सहित खेतों का कटाव कर रही हैं। सपही मुखिया जितेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि राजहवा बांध का लगभग 100 मीटर का हिस्सा ध्वस्त हो गया है। गुदगुदी के चुन्नू गिरी व शशांक गिरि ने बताया कि यहां के विभिन्न गांवों में करीब 20 एकड़ खेती योग्य भूमि नदी के गर्भ में समा चुकी है। लगातार कटाव जारी है। इमरती कटहरवा व चमरडीहा के खलका टोला में आधा दर्जन से अधिक किसानों के खेत नदी में समा चुके हैं। स्थानीय लोग बाढ़ और कटाव से भयभीत हैं। रामनगर सीओ विनोद मिश्र ने बताया कि फगुनहटा, इमरती कटहरवा, हरिहरपुर में बाढ़ का पानी अब उतरने लगा है। कटाव की सूचना मिली है। राजस्व कर्मी को नुकसान का आकलन करने को कहा गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.