top menutop menutop menu

कोरोना ने बदल दी आदत, प्रभावित हो रही जीवनशैली

कोरोना ने बदल दी आदत, प्रभावित हो रही जीवनशैली
Publish Date:Thu, 13 Aug 2020 12:08 AM (IST) Author: Jagran

बेतिया। कोरोना वायरस की वजह से लोगों की जीवनशैली में काफी बदलाव आया है। उनकी आदतें और दिनचर्या काफी हद तक बदल गई है। खान-पान से लेकर खरीदारी मे भी लोग पुरानी आदतों को दरकिनार कर नए तौर तरीके अपना रहे हैं। सामाजिक दूरी का भी ख्याल रखा जा रहा है। दूर से ही अपनों का हाल-चाल लिया जा रहा है ।रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए खानपान में इम्यूनिटी बूस्टर का उपयोग खूब किया जा रहा है। चमनप्राश, गिलोय,ड्राई फूड्स, फल हरी सब्जियां, नींबू आदि का प्रयोग खूब कर रहे हैं।जीवनशैली में हो रहे इन बदलावों को हम हर दिन अनुभव भी कर रहे हैं। कोरोना संकट के दौर में देश दुनिया में सामाजिक जीवन काफी हद तक प्रभावित हो रहा है। जानकारी के अनुसार आने वाले समय में इन बदलावों का बड़ा असर पड़ने वाला है। हो सकता है कि इस दौरान बदली आदतें लोगों के जीवन का स्थाई हिस्सा बन जाए।

---------

इनसेट

साफ-सफाई बरतने की पड़ने लगी आदत

कोरोना संक्रमण के डर से साफ-सफाई की आदतों में काफी सुधार हुआ है। अब लोग स्वयं साफ सफाई पर ध्यान दे रहे हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना से बचने के लिए दिनभर समय-समय पर हाथ धोते रहने की सलाह दी। हाथों को 20 सेकेंड तक साबुन और पानी से धोना जरूरी है। यह सलाह अधिकांश लोगों की आदत बन गई। दिन में कई बार संक्रमण से सुरक्षा के लिए अपने हाथों को धोते रहते हैं। घर की सफाई भी लगातार होती रहती है। नतीजतन साबुन एवं फिनाइल आदि की बिक्री बढ़ गई है। साफ सफाई से जुड़े उत्पाद खूब बिक रहे हैं। बताया जाता है कि 4 माह में करीब 80 फीसद इन उत्पादों की बिक्री बढ़ गई है।

---------

इनसे

वर्क फ्रॉम होम का बढ़ा क्रेज

कोरोना संकट के दौरान एक बड़ा बदलाव ऑफिस कल्चर यानी कार्यालय संस्कृति में भी हुआ। संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए आईटी से लेकर मार्केटिग सेक्टर ने भी अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की सुविधा दी है। लोग ऑफिस जाने की बजाय घर से काम कर रहे हैं। बच्चों को भी ऑनलाइन शिक्षा दी जा रही है। नतीजतन अधिकांश स्कूल के शिक्षक वर्क फ्रॉम होम के माध्यम से ऑनलाइन बच्चों को पढ़ा रहे। शायद इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा देने और लेने के लिए मजबूर होना पड़ा हो।

-------

इनसेट

पहनावे और रहन-सहन में भी आया बदलाव

कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। नतीजतन सरकार ने लॉकडाउन कर रखा है। लॉकडाउन की वजह से लोग घरों में रहने को विवश हैं। लॉकडाउन की वजह से लोगों के पहनावे और रहन-सहन में बड़ा बदलाव हुआ है। घर से बाहर निकलना नहीं है, इसलिए शर्ट, पैंट, जींस, कोर्ट या अन्य किसी प्रोफेशनल आउटफिट की जगह लोग टीशर्ट, पायजामा जैसे कंफर्ट कपड़े पहन रहे हैं। कामकाजी महिलाएं भी घर में साड़ी, कुर्ती वगैरह आरामदेह कपड़े पहन रही है।

----------

इनसेट किचन में तैयार हो रहे मनपसंद व्यंजन

इन दिनों लोगों का होटल या रेस्टोरेंट्स जाना बंद है। गलियों और चौराहों पर चटपटे चाट और पानीपुरी से लेकर छोले-कुलचे और अन्य चटखारों का आनंद लेना संभव नहीं है। हालांकि दुकानें खुल रही है, होटल रेस्टोरेंट भी खुल रहे हैं लेकिन अधिकांश लोग इस का आनंद लेने से परहेज कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में घर के किचन में ही लगातार प्रयोग हो रहे हैं। कुछ प्रयासों के बाद लोग सफल भी हो रहे हैं। इंटरनेट पर ऑनलाइन व्यंजन तैयार करने की विधि खूब सर्च की जा रही हैं। किचन से दूरी बनाकर रखने वाले लोग भी अब स्वयं द्वारा लजीज व्यंजन तैयार कर आनंद ले रहे हैं। बाहर के खाने से परहेज करते हुए की किचन का बना हुआ खाना खा रहे हैं।

----------------

इनसेट

जगी सीखने की ललक

लॉकडाउन में लोगों में नई-नई चीजें सीखने की ललक बढ़ी है। इंटरनेट पर तो ऑनलाइन कोर्सों की भरमार है। लोग अपनी हॉबी यानी शौक को विस्तार दे रहे हैं। गाना गाने से लेकर गिटार बजाने तक, चित्रकारी से लेकर अदाकारी तक, फोटोग्राफी से लेकर बागवानी तक लोग काफी कुछ सीख रहे हैं। सोशल मीडिया पर यदि एक चक्कर लगा कर आएंगे तो हर तीसरा व्यक्ति अपना कौशल दिखाता, बढ़ाता नजर आएगा। इस लॉकडाउन पीरियड का उपयोग लोग अपनी कला और कौशल को निखारने में लगा रहे हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.