सिकटा में 74.3 फीसद मतदाताओं ने किया अपने मताधिकार का प्रयोग

सिकटा में त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन के सातवें चरण का मतदान सोमवार को शान्तिपूर्ण सम्पन्न हो गया। प्रखंड के कुल 505 पदों के लिए कुल 1996 प्रत्याशियों के भाग्य ईवीएम व मतदान पेटियों में कैद हो गए। सातवें चरण के मतदान में मतदाताओं के बीच भारी उत्साह रहा।

JagranMon, 15 Nov 2021 09:19 PM (IST)
सिकटा में 74.3 फीसद मतदाताओं ने किया अपने मताधिकार का प्रयोग

बेतिया । सिकटा में त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन के सातवें चरण का मतदान सोमवार को शान्तिपूर्ण सम्पन्न हो गया। प्रखंड के कुल 505 पदों के लिए कुल 1996 प्रत्याशियों के भाग्य ईवीएम व मतदान पेटियों में कैद हो गए। सातवें चरण के मतदान में मतदाताओं के बीच भारी उत्साह रहा। यहां के 70 फीसद मतदाताओं ने जमकर वोट गिराए। चुनाव पारदर्शी, स्वच्छ व निष्पक्ष शान्तिपूर्ण कराने को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। तकनीकी गड़बड़ी को लेकर बूथ नंबर 10, 29, 160, 165, 169,171 आदि मतदान केन्द्रों पर इवीएम को बदला गया। जिसे लेकर करीब बीस मीनट से आधे घंटे तक मतदान बाधित हो गया। बूथ नंबर पांच व छ: पर विद्यूत आपूर्ति में गड़बड़ी आने से भी कुछ देर के लिए मतदान को रोकना पड़ा।

----------------------------

जिलाधिकारी ने आदर्श बूथ का किया निरीक्षण

जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने प्रखंड कार्यालय के सामने बालक मध्य विद्यालय व प्रोजेक्ट कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में स्थापित आदर्श व सखी मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। वहां की व्यवस्था को देख जिलाधिकारी ने प्रशन्नता व्यक्त की। उन्होंने मतदान कार्य में प्रतिनियुक्त कर्मियों से आवश्यक जानकारी ली। मौके पर एसपी उपेन्द्रनाथ वर्मा, एएसपी(अभियान) कुणाल कुमार, डीडीसी आदि वरीय अधिकारी मौजूद रहे। महिला आरक्षण से बदल रहा चुनावी परिदृश्य: पूर्व मंत्री

मैनाटांड़: पंचायत में गांव की सरकार बनाने में पूर्व मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद ने सोमवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित मैनाटांड़ पंचायत के बूथ संख्या 156 पर सपरिवार मतदान किया। मतदान के बाद उन्होंने बताया कि भारत जैसे अखंड देश में लोकतंत्र में मताधिकार का अहम स्थान है। जनता मताधिकार का प्रयोग कर अपने प्रतिनिधि का चुनाव करती है। गांवों की सरकार बनाने में जैसे लोग बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे हैं। इससे गांव के विकास के लिए शुभ संकेत है। खासकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा महिला आरक्षण देने का नजारा बूथों पर देखा जा रहा है। महिलाएं भी ़खूब बढ़-चढ़कर कर मतदान में हिस्सा ले रही है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.