उदीयमान भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य देने के साथ लोकआस्था का महापर्व छठ शांतिपूर्ण संपन्न

जागरण संवाददाता हाजीपुर वैशाली जिले में शहर से लेकर गांव तक छठमय हो गया था। पूरे

JagranThu, 11 Nov 2021 11:44 PM (IST)
उदीयमान भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य देने के साथ लोकआस्था का महापर्व छठ शांतिपूर्ण संपन्न

जागरण संवाददाता, हाजीपुर :

वैशाली जिले में शहर से लेकर गांव तक छठमय हो गया था। पूरे श्रद्धा एवं विश्वास के साथ श्रद्धालुओं ने लोक आस्था के महापर्व छठ के मौके पर भगवान भास्कर की पूजा-अर्चना की। क्या खास और क्या आम, सभी इस मौके पर एक ही रंग में रंगे नजर आ रहे थे। घाटों पर भगवान भास्कर के प्रति लोगों की असीम श्रद्धा झलक रही थी। चार दिवसीय छठ अनुष्ठान के तीसरे दिन बुधवार की शाम हाजीपुर में नारायणी एवं गंगा नदी के सभी घाटों समेत जिले के तमाम नदियों, पोखर एवं तालाबों पर छठव्रती महिला-पुरुषों ने अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को पहला अ‌र्घ्य दिया। गुरुवार की सुबह उदीयमान भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य देने के साथ ही चार दिवसीय छठ के अनुष्ठान का समापन हो गया। जिला प्रशासन एवं हाजीपुर नगर परिषद की ओर से घाटों पर की गई व्यवस्था से शहर के लोग संतुष्ट दिखे।

छठ को लेकर शहर से गांव तक दिखा भक्तिमय माहौल

लोक आस्था के महापर्व छठ को लेकर पूरे जिले में शहर से लेकर गांव तक भक्तिमय माहौल दिखा। घरों, मोहल्लों, बाजारों और घाटों पर रंग-बिरंगी रोशनी की छटा के बीच छठी मईया के गीत गूंज रहे थे। हाजीपुर के सभी घाटों पर जिला प्रशासन की ओर से छठव्रतियों की सुविधा के लिए खास इंतजाम किए थे। घाटों की इस बार आकर्षक तरीके से सजावट की गई थी। घाटों पर जगह-जगह मिथिला पेंटिग भी लगाई गई थी। प्रशासनिक स्तर पर इंतजामों के अलावा श्रद्धालुओं ने अपने स्तर पर भी छठ पर्व पर सभी घाटों की भव्य एवं आकर्षक तरीके से सजावट की थी।

घाटों पर सुरक्षा को लेकर किए गए थे खास इंतजाम

हाजीपुर में नारायणी के सभी घाटों पर तैनात प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी सतत निगरानी रख रहे थे। वहीं डीएम उदिता सिंह एवं पुलिस कप्तान मनीष स्वयं लगातार सुरक्षा इंतजामों का जायजा ले रहे थे। ऐतिहासिक कोनहारा घाट पर प्रत्येक गतिविधि पर पैनी नजर रखने को लेकर कई वाच टावर बनाए गए थे, जिस पर से सुरक्षाकर्मी पैनी नजर रखे हुए थे। वहीं, नदी में एसडीआरएफ एवं एनडीआरएफ की टीम गोताखोरों के साथ मोटरबोट से निगरानी कर रही थी।

घाटों पर की गई थी मेडिकल टीम की तैनाती

हाजीपुर नगर में नारायणी नदी के सभी घाटों पर एंबुलेंस के साथ मेडिकल टीम की तैनाती की गई थी। साथ ही हाजीपुर सदर अस्पताल को भी अलर्ट मोड पर रखा गया था ताकि किसी भी आपात स्थिति में तत्काल लोगों को मदद उपलब्ध कराई जा सके। सिविल सर्जन एवं हाजीपुर सदर अस्पताल के उपाधीक्षक खुद मुस्तैद रहकर गहन मानीटरिग कर रहे थे। अतिरिक्त डाक्टरों एवं स्वास्थ्यकर्मियों की तैनाती अस्पताल में की गई थी। कोरोना के टीकाकरण के भी छठ के मौके पर खास इंतजाम किए गए थे।

नगर परिषद की टीम छठ के दौरान रही मुस्तैद

लोक आस्था के महापर्व छठ के मौके पर हाजीपुर नगर परिषद की टीम भी पूरी तरह से मुस्तैद थी। खुद नगर परिषद सभापति किरण देवी एवं पूर्व सभापति रमा निषाद ने मोर्चा संभाल रखा था। घाटों के साथ ही शहर के सभी मुख्य मार्गों की साफ-सफाई की लगातार मानीटरिग की जा रही थी। रमा निषाद ने बताया कि छठ पर्व के दौरान पार्षदों की टीम के साथ लगातार उन्होंने गहन मानिटरिग की ताकि कोई दिक्कत नहीं हो।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.