राघोपुर में पुलिस ने देसी शराब की 15 भट्ठियों को किया ध्वस्त

राघोपुर में पुलिस ने देसी शराब की 15 भट्ठियों को किया ध्वस्त

रुस्तमपुर ओपी की जफराबाद पंचायत के गंगा किनारे जंगल झाड़ियों में संचालित देसी शराब की 15 भट्ठियोंयो को पुलिस ने ध्वस्त कर दिया। इस दौरान पुलिस ने लगभग 2000 लीटर कच्चा जावा एवं शराब बनाने वाले उपकरण को तहस-नहस कर दिया।

JagranSun, 18 Oct 2020 09:20 PM (IST)

संवाद सूत्र, राघोपुर : रुस्तमपुर ओपी की जफराबाद पंचायत के गंगा किनारे जंगल झाड़ियों में संचालित देसी शराब की 15 भट्ठियोंयो को पुलिस ने ध्वस्त कर दिया। इस दौरान पुलिस ने लगभग 2000 लीटर कच्चा जावा एवं शराब बनाने वाले उपकरण को तहस-नहस कर दिया। इस दौरान पुलिस ने मौके से 70 लीटर देसी शराब बरामद की। यह कार्रवाई पुलिस ने बीते शनिवार की देर शाम की। पुलिस की इस बड़ी कार्रवाई से शराब कारोबारियों में हड़कंप मच गया। हालांकि पुलिस छापेमारी की भनक लगते ही शराब कारोबारी भागने में सफल हो गए। रुस्तमपुर ओपी अध्यक्ष शुभ नारायण प्रसाद यादव ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि जफराबाद दियारा गंगा नदी किनारे अवैध रूप से देशी शराब की भठ्ठी संचालित की जा रही है। इस सूचना के आधार पर शनिवार की देर शाम छापेमारी कर पुलिस ने देसी शराब की 15 भट्ठियों को ध्वस्त कर दिया। इस दौरान पुलिस ने लगभग 2000 लीटर कच्चा जावा को नष्ट कर दिया एवं मौके से 70 लीटर तैयार देसी शराब बरामद की गयी। मालूम हो कि राघोपुर थाना क्षेत्र के मिरमपुर गोरीहाड़ी दियारा, रुस्तमपुर ओपी के जफराबाद, जहांगीरपुर, सुकुमार पुर, परोहा, दीवान टोंक नदी किनारे जंगल झाड़ियों में देसी शराब की दर्जनों भट्टी सुलगती रहती है। मालूम हो कि विधानसभा को लेकर शराब कारोबारी बड़े पैमाने पर देसी शराब तैयार कर रहे हैं। स्थानीय लोगों के अनुसार पुलिस की मिलीभगत से शराब कारोबारियों का धंधा फल-फूल रहा है। मालूम हो कि पटना हाजीपुर अन्य जगहों से चोरी की गई दो पहिया एवं चारपहिया वाहन देसी शराब के कारोबार में राघोपुर में उपयोग किए जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार रुस्तमपुर ओपी क्षेत्र के जफराबाद जहांगीरपुर, सुकमारपुर, परोहा, दिवानटोक दियारा में चोरी की गई मोटरसाइकिल से शराब लाने और ले जाने का काम किया जाता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.