बारात से लौट रही बस पेड़ से टकराई, चालक व उप चालक जख्मी

लालगंज थाना क्षेत्र के लखन सराय गांव के पास लालगंज-फकुली मार्ग पर बारातियों को छोड़ कर आ रही एक बस अनियंत्रित होकर सड़क किनारे एक पेड़ से टकरा गई। हादसे में चालक और उप चालक आंशिक रूप से जख्मी हो गए। जिसे स्थानीय लोगों की मदद से निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

JagranSat, 25 Sep 2021 10:53 PM (IST)
बारात से लौट रही बस पेड़ से टकराई, चालक व उप चालक जख्मी

संवाद सूत्र, लालगंज :

लालगंज थाना क्षेत्र के लखन सराय गांव के पास लालगंज-फकुली मार्ग पर बारातियों को छोड़ कर आ रही एक बस अनियंत्रित होकर सड़क किनारे एक पेड़ से टकरा गई। हादसे में चालक और उप चालक आंशिक रूप से जख्मी हो गए। जिसे स्थानीय लोगों की मदद से निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है। स्थानीय लोगों के अनुसार बस बारातियों को खाली करके लालगंज की तरफ से फकुली की ओर जा रही थी। इसी दौरान लखन सराय के पास यह हादसा हुआ। चालक को नींद आ जाने के कारण बस के पेड़ से टकराने की घटना हुई है। संयोग अच्छा था कि बस में पैसेंजर नही थे, वरना बड़ा हादसा हो सकता था।

गोरौल में हरसेर धर्मकांटा के निकट डंपर से कुचल एक व्यक्ति की मौत

गोरौल संवाद सूत्र :

हाजीपुर-मुजफ्फरपुर मुख्य मार्ग के हरशेर धर्मकांटा के पास डंपर की ठोकर से एक 55 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। साथ ही हादसे में उसका पुत्र भी जख्मी हो गया। मृतक की पहचान गोरौल बाजार निवासी मोहन राय के रूप में की गई है। घटना के संबंध में बताया गया है कि मृतक ट्रक चालक था और अपनी गाड़ी हरशेर स्थित धर्मकांटा के पास खड़ा कर अपने पुत्र राहुल कुमार से बातचीत कर रहा था कि पीछे से आ रही एक डंपर ने उसे रौंद दिया जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। वहीं उसका 18 वर्षीय पुत्र भी आंशिक रूप से जख्मी हो गया। सूचना मिलते ही पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। पुलिस ने वाहन को जब्त कर लिया है। हादसे में मारे गए व्यक्ति का शव गांव में आते ही कोहराम मच गया। पत्नी, दो पुत्र एवं दो पुत्री है। वह अपने घर इकलौता कमाने वाला सदस्य था। थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने बताया कि सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है। मालूम हो कि इस जगह पर आए दिन दुर्घटना होते रहती है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि एनएच 22 के बीचोंबीच सैकड़ो ट्रक खाद्यान्न लादकर धर्मकांटा पर वजन कराने के लिए खड़ा रहता है। जिससे आने-जाने वाले अन्य गाड़ियों के चालकों को रात में कौन कहे दिन में भी सड़क नहीं दिखता है। पहले भी कई लोगों की जान जा चुकी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.