धूप भी कम न कर पाई ठंड का सितम

धूप भी कम न कर पाई ठंड का सितम

सुपौल। वर्फीली पछिया के झोंके ने कनकनी बढ़ा दी है। शुक्रवार को धूप के निकलने के बावजू

JagranFri, 18 Dec 2020 06:08 PM (IST)

सुपौल। वर्फीली पछिया के झोंके ने कनकनी बढ़ा दी है। शुक्रवार को धूप के निकलने के बावजूद ठंड का सितम कम नहीं हुआ। धूप में निकलने पर थोड़ी राहत थी लेकिन कमरे के अंदर जाते ही लोगों को रजाई-कंबल में दुबकना पड़ा। ऐसे में कमरे के अंदर काम करनेवालों को

सुबह धूप देखकर लोगों को राहत जरूर महसूस हुई लेकिन तेज हवा ने धूप को बेमजा कर दिया। खेतों में काम करनेवाले लोग घरों से निकले जरूर लेकिन खेतों में पछिया का सामना करते काम करना आसान नहीं था। यही हाल कमरे में रहकर काम करनेवालों का था। कनकनी के कारण काम करने में परेशानी हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिम की ओर से बर्फीली हवा चलने के कारण कनकनी बढ़ गई है। दिन के समय हवा की रफ्तार 25 किलोमीटर प्रतिघंटा थी जो शाम होते-होते घटकर 14 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार पर आई। शाम होने के बाद हवा की रफ्तार कम होने के साथ ही धूप भी नरम पड़ती गई। इससे ठंड में कमी नहीं आई। शाम होते ही कई स्थानों पर लोग अलाव जलाकर बैठ गए। जारी ठंड में अलाव ही लोगों का सहारा बना हुआ है। डॉक्टर बताते हैं कि बच्चे और बुजुर्गों की सेहत के लिहाज से यह ठंड परेशानी का कारण बन सकती है। ब्लड प्रेशर के मरीजों को ऐसे समय में विशेष सावधानी की आवश्यकता होती है। ठंड में खून की धमनियों में सिकुड़न हो सकती है जो परेशानी का कारण बन सकती है। डॉ. शांतिभूषण बताते हैं कि ब्लड प्रेशर की दवा लेने को नियमित दवा लेनी चाहिए। खुले में गर्म कपड़े पहने बिना नहीं निकलना चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.