समाजवाद की धरती पर गठबंधन की लड़ाई

समाजवाद की धरती पर गठबंधन की लड़ाई
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 04:48 PM (IST) Author: Jagran

-सभी सीटों के लिए कुल 75 प्रत्याशी मैदान में ठोक रहे हैं ताल

भरत कुमार झा, सुपौल: सुपौल की पांच विधानसभा क्षेत्रों के लिए तीसरे चरण में मतदान होना है। सभी सीटों के लिए कुल 75 प्रत्याशी मैदान में ताल ठोक रहे हैं। यूं तो एनडीए और महागठबंधन के बीच ही मुख्य मुकाबला माना जा रहा है, लेकिन मैदान में उतरे बागी अथवा अन्य उम्मीदवार समीकरण बना बिगाड़ सकते हैं। वैसे कहा जाए तो समाजवाद की इस धरती पर गठबंधनों की ही लड़ाई है। 2015 के चुनाव में भी यहां दो गठबंधन ही आमने सामने थे। गठबंधन के तहत चार पर भाजपा ने अपना प्रत्याशी दिया था तो एक पर लोजपा ने। वहीं, महागठबंधन से तीन पर जदयू के उम्मीदवार मैदान में थे तो दो पर राजद ने अपना प्रत्याशी खड़ा किया था। विगत चुनाव तीन सीट जदयू की झोली में गई थी, एक पर भाजपा ने तो एक पर राजद ने कब्जा जमाया था। इस चुनाव एनडीए से चार पर जदयू तो एक पर भाजपा ने अपना उम्मीदवार दिया है। वहीं महागठबंधन से चार पर राजद तो एक पर कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी मैदान में उतारा है।

----------------------------------------------

41 निर्मली

प्रत्याशी-15

अनिरुद्ध प्रसाद यादव- जदयू

यदुवंश कुमार यादव-राजद

---------------------------

41-निर्मली विधानसभा क्षेत्र से कुल 15 प्रत्याशी मैदान में हैं। एनडीए से जदयू के अनिरुद्ध् प्रसाद यादव को फिर पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है। ये 2010 से लगातार यहां के विधायक हैं। जबकि विगत चुनाव पिपरा से विधायक रहे यदुवंश कुमार यादव को राजद ने महागठबंधन का उम्मीदवार बनाया है। यहां लोजपा, रालोसपा और जन अधिकार पार्टी ने भी अपना उम्मीदवार खड़ा किया है। विगत चुनाव भी आमने सामने की टक्कर में यह सीट महागठबंधन के तहत जदयू की झोली में गई थी। इस चुनाव भी दोनों गठबंधन के आमने-सामने की लड़ाई के ही आसार हैं। लेकिन अन्य दलों के उम्मीदवार नतीजे को प्रभावित कर सकते हैं।

------------

प्रमुख मुद्दे- कोसी का दंश व विस्थापन की पीड़ा

------------------------------------

42- पिपरा

प्रत्याशी-18

रामविलास कामत-जदयू

विश्वमोहन कुमार- राजद

------------------------

42- पिपरा विधानसभा क्षेत्र से कुल 18 उम्मीदवार मैदान में अपना भाग्य आजमा रहे हैं। एनडीए से जदयू ने रामविलास कामत को अपना उम्मीदवार बनाया है। वहीं महागठबंधन से विश्वमोहन कुमार राजद के उम्मीदवार बनाए गए हैं। ये फिलहाल भाजपा में थे। सीट भाजपा की झोली में नहीं जाने के कारण इन्होंने पाला बदल लिया और महागठबंधन के उम्मीदवार बना दिए गए। यहां से लोजपा, जन अधिकार पार्टी ने भी अपना प्रत्याशी खड़ा किया है। भले ही समीकरण बनाने और बिगाड़ने में इनकी भूमिका बन सकती है। लेकिन मुख्य मुकाबला दोनों गइब्धनों के बीच ही माना जा रहा है।

--------------------

प्रमुख मुद्दे- रोजगार की समस्या व मजदूरों का पलायन -----------------------------------------

43- सुपौल विधानसभा

विजेंद्र प्रसाद यादव- जदयू

मिन्नतुल्लाह रहमानी- कांग्रेस

--------------------------------------

सुपौल से 11 उम्मीदवार मैदान में अपना भाग्य आजमा रहे हैं। एनडीए गठबंधन के तहत जदयू ने फिर अपने पुराने योद्धा विजेंद्र प्रसाद यादव को ही मैदान में उतारा है। ये 1990 से लगातार सुपौल विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते चले आ रहे हैं। महागठबंधन के तहत इसबार ये सीट कांग्रेस की झोली में चली गई है और कांग्रेस ने युवा पर भरोसा जताते हुए मिन्नतुल्लाह रहमानी को मैदान में उतारा है। वैसे लोजपा ने भी इस क्षेत्र से अपना प्रत्याशी मैदान में उतारा है। अन्य उम्मीदवार समीकरण बनाने-बिगाड़ने में एंड़ी चोटी एक किए है लेकिन मुकाबला दोनों गठबंधनों के बीच ही माना जा रहा है।

---------------------

प्रमुख मुद्दे- उद्योग धंधों का अकाल

------------------------------------------------

44-त्रिवेणीगंज विधानसभा

प्रत्याशी-09 वीणा भारती-जदयू

संतोष कुमार-राजद

--------------------

44 त्रिवेणीगंज विधानसभा क्षेत्र से कुल नौ प्रत्याशी मैदान में अपना भाग्य आजमा रहे हैं। एनडीए से क्षेत्रीय विधायक वीणा भारती जदयू प्रत्याशी के रूप में मैदान में है। जबकि महागठबंधन ने राजद उम्मीदवार के रूप में युवा उम्मीदवार संतोष कुमार को मैदान में उतारा है। यहां दोनों उम्मीदवारों को राजनीति विरासत में मिली है। वीणा भारती पूर्व विधायक विश्वमोहन भारती की पत्नी है तो संतोष कुमार पूर्व सांसद महेंद्र नारायण सरदार के पुत्र। यहां से लोजपा ने भी अपना उम्मीदवार उतारा है। यहां भी दोनों गठबंधन आमने सामने दिखाई दे रहे हैं। वैसे लोजपा या अन्य प्रत्याशी समीकरण बनाने बिगाड़ने में कामयाब हो सकते हैं।

---------------------

प्रमुख मुद्दे- किसानों के उत्पाद की नहीं कोई व्यवस्था

-------------------------------------------------------------

45- छातापुर विधानसभा

प्रत्याशी-22

नीरज कुमार सिंह- भाजपा

विपिन कुमार सिंह

-----------------------

45- छातापुर विधानसभा क्षेत्र से कुल 22 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं। एनडीए से भाजपा उम्मीदवार के रूप में क्षेत्रीय विधायक नीरज कुमार सिंह बबलू मैदान में हैं। 2010 से ये क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। महागठबंधन से राजद ने विपिन कुमार सिंह को मैदान में उतारा है। यहां राजद के बागी ने जाप का दामन थाम लिया है। यहां से जाप के अलावा बसपा और एआईएमआई एम ने भी अपना प्रत्याशी मैदान में उतारा है। उम्मीदवारों के बीच वोटों का बंटवारा जो भी हो मुख्य मुकाबला दोनों गठबंधनों के बीच ही माना जा रहा है।

------------------------------

प्रमुख मुद्दे- सुरसर नदी के कोप से निजात

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.