समस्याओं से जूझ रहा उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय हरिराहा

समस्याओं से जूझ रहा उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय हरिराहा

राघोपुर प्रखंड अंतर्गत हरिराहा पंचायत स्थित लखीचंद साहू उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय शिक्षकों की कमी सहित अन्य सुविधाओं के लिए तरस रहा है।

Publish Date:Tue, 19 Jan 2021 06:06 PM (IST) Author: Jagran

सुपौल। राघोपुर प्रखंड अंतर्गत हरिराहा पंचायत स्थित लखीचंद साहू उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय शिक्षकों की कमी सहित अन्य सुविधाओं के लिए तरस रहा है। विद्यालय के भवन की हालत भी खस्ता हो रही है। खिड़कियों के सारे शीशे टूट चुके हैं। पांच शिक्षकों के ऊपर विद्यार्थियों के भविष्य संवारने की जिम्मेदारी है। मंगलवार को जब जागरण ने लखीचंद साहू उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय की पड़ताल की तो 10वीं के प्रायोगिक परीक्षा के लिए विद्यार्थी पहुंच रहे थे और मास्क लगाए नौवीं के विद्यार्थी में विद्यालय में प्रवेश कर रहे थे।

---------------------------------------- 2011 में हुई स्थापना

लखीचंद साहू उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय हरिराहा की स्थापना 2011 में की गई। हालांकि अभी तक प्लस टू की पढ़ाई शुरू नहीं हुई है। 183 विद्यार्थी इस बार बोर्ड की परीक्षा देंगे। इनमें से 153 नियमित एवं 30 पूर्ववर्ती छात्र हैं। विद्यालय में नौवीं में 213 विद्यार्थी नामांकित हैं।

---------------------------------------- कहते हैं विद्यालय प्रधान

विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक राजेश कुमार ने बताया कि कोविड-19 के चलते लंबे समय से विद्यालय बच्चों के लिए बंद था। 04 जनवरी से पढ़ाई शुरू हो गई है। विद्यार्थियों की संख्या में धीरे-धीरे बढ़ रही है। अभी 50 से 60 के बीच विद्यार्थी स्कूल पहुंच रहे हैं। विभाग की तरफ से अभी दो सौ मास्क उपलब्ध कराए गए हैं। प्रधान ने बताया कि विद्यालय में सिर्फ पांच शिक्षक कार्यरत हैं। शिक्षकों की भी कमी है।

---------------------------------------- समस्याओं को दूर करने की मांग

मुखिया उषा देवी, सामाजिक कार्यकर्ता रमेश मंडल, पंकज यादव, मनोज झा, बलराम शर्मा आदि ने विभागीय अधिकारियों से अविलंब विद्यालय में शिक्षकों सहित अन्य समस्याओं को दूर करने की मांग की है। जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों ने बताया कि शिक्षकों की समुचित व्यवस्था नहीं रहने के करण छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.