सिवान में शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में उमाशंकर बाबू ने किया कीर्तिमान स्थापित

सिवान में शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में उमाशंकर बाबू ने किया कीर्तिमान स्थापित

जिले के महाराजगंज स्थित अनुग्रह नारायण उमाशंकर सिंह महिला महाविद्यालय तथा दारौंदा प्रखंड के जलालपुर स्थित उमाशंकर सिंह महाविद्यालय में रविवार को जननायक नेता सह पूर्व सांसद उमाशंकर सिंह की 81वीं जयंती मनाई गई।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 04:29 PM (IST) Author: Jagran

सिवान । जिले के महाराजगंज स्थित अनुग्रह नारायण उमाशंकर सिंह महिला महाविद्यालय तथा दारौंदा प्रखंड के जलालपुर स्थित उमाशंकर सिंह महाविद्यालय में रविवार को जननायक नेता सह पूर्व सांसद उमाशंकर सिंह की 81वीं जयंती मनाई गई। इस मौके पर उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी गई तथा उनके व्यक्तित्व कृतित्व पर प्रकाश डाला गया। इस मौके पर भजन-कीर्तन कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। इस दौरान महाविद्यालय के पूर्व सचिव जितेंद्र स्वामी ने कहा कि इस बार कोरोना को ले सरकार के गाइड लाइन के तहत महाविद्यालय के संस्थापक व सचिव पूर्व सांसद उमाशंकर सिंह की जयंती सादगी के साथ मनाई जा रही है। इसमें कॉलेज परिवार के सदस्यों का अहम योगदान है। उन्होंने कहा कि उमाशंकर सिंह ने महाराजगंज क्षेत्र से ही अपनी राजनीतिक सफर शुरू की। पांच बार विधायक के रूप में रहकर अनेक महत्वपूर्ण कार्य किए। उन्होंने क्षेत्र में कई विद्यालय, महाविद्यालय, स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना कर एक कीर्तिमान स्थापित की। क्षेत्र के सभी लोगों से उनका संबंध परिवार जैसा था। वे सांसद रहते भी क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य किए। वहीं प्राचार्य रणविजय सिंह ने कहा कि उमाशंकर सिंह ने सांसद, विधायक रहते क्षेत्र में शिक्षा की जो अलख जगाई यह क्षेत्र के लोगों को काफी लाभ मिल रहा है। क्षेत्र के लोग शिक्षा ग्रहण कर विभिन्न क्षेत्र में अपना नाम रोशन कर रहे हैं। अनुग्रह नारायण उमाशंकर सिंह कॉलेज में कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रो. सुबोध सिंह ने की। इस मौके पर महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने स्वागत गान प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को पूर्व प्रमुख इम्तियाज अहमद, प्राचार्य प्रो. सुनीता सिंह, प्रो. दिनेश्वर सिंह, प्रो. अलख देव सिंह, प्रो. प्रमीत कुमार सिंह, प्रो. अलखदेव सिंह, प्रो. मनोज वर्मा, प्रो. राम उदार सिंह, प्रो. सुनील कुमार महतो, प्रो. उपेंद्र सिंह, प्रो. सुलेखा सिंह, प्रो. विजय कुमार त्यागी, सैयद नमी इमाम, धीरेंद्र सिंह, अरुण सिंह, अखिलेश सिंह, अशोक भारती, नीलू कुमारी, कालिका नारायण सिंह, राजेश कुमार सिंह, दीपनारायण सिंह, राजेंद्र सिंह, अमरेंद्र कुमार सिंह, योगेंद्र सिंह, वीरेंद्र महतो, राम लखन साह, उमरावती कुंवर, हरेंद्र सिंह, पूनम कुमारी, किरण कुमारी, सुमन कुमारी, मुन्ना कुमार सिंह, शंभू मांझी, रामप्रवेश, तारकेश्वर सिंह, चुन्नू सिंह, विकास कुमार सिंह, अमरजीत सिंह, योग प्रचारक अंगद कुमार, अरविद स्वामी आदि ने संबोधित किया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.