top menutop menutop menu

अलग-अलग सड़क दुर्घटना में चार की मौत

सिवान : जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हुई सड़क दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गई। इस घटना के बाद स्वजनों में कोहराम मच गया। पुलिस शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई में जुट गई है। जानकारी के अनुसार रघुनाथपुर के महारौली मोड़ पर हुई घटना में महरौली निवासी जगदीश भर, दरौली-रघुनाथपुर मुख्य पथ पर पटेल मोड़ पर हुई सड़क दुर्घटना में तियर निवासी नूरमाम अली, पपौर में हुई घटना में बड़कागांव निवासी रिकु कुमार श्रीवास्तव तथा सारण जिले के मांझी में हुई सड़क दुर्घटना में शेरही निवासी रोहित बताया जाता है। पहली घटना के संबंध में बताया जाता है कि रघुनाथपुर-सिसवन मुख्य पथ पर महरौली मोड़ के पास मंगलवार की दोपहर बाइक से धक्का लगने से वृद्ध जगदीश भर की मौत हो गई। जगदीश भर अपने घर ही एक छोटा सा किराना का दुकान चलाकर परिवार का खर्च चलाते थे। मंगलवार की दोपहर टारी बाजार से दुकान का सामान खरीदकर साइकिल से घर लौट रहे थे तभी महरौली मोड़ पर बाइक की चपेट में आने से उनकी मौत घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना के बाद बाइक चालक गाड़ी छोड़ फरार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया। जाम की सूचना पाकर सीओ ने पारिवारिक मृतक के पुत्र कृष्ण राजभर को 20 हजार रुपये प्रदान किया। मुखिया रिकू देवी ने अंत्येष्टि के तहत तीन हजार रुपये प्रदान किया। इसके बाद जाम को हटवाया गया। वहीं दूसरी घटना दरौली-रघुनाथपुर मुख्य मार्ग स्थित पटेल मोड़ के पास सोमवार की रात हुई जहां ट्रक की चपेट में आने से असांव थाना के तियर निवासी मुबारक अली का पुत्र नूरमाम अली तथा भाई अली हुसैन घायल हो गए। दोनों को इलाज के लिए दरौली अस्पताल लाया गया जहां चिकित्सकों ने नूरमाम अली को मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद चालक ट्रक लेकर भागने में सफल रहा। मुखिया सपना देवी की मृतक के स्वजन को कबीर अंत्येष्टि के तहत तीन हजार रुपये प्रदान किया। बताया जाता है कि नूरमाम अली सेना की तैयारी करता था। वहीं तीसरी घटना भी सोमवार की देर रात की है । सराय ओपी क्षेत्र के पपौर एसएच 73 पर सोमवार की रात पिकअप के चपेट में आने से बाइक सवार बड़कागांव निवासी महात्मा शरण श्रीवास्तव का पुत्र रिकू कुमार श्रीवास्तव घायल हो गया। पुलिस ने मौके पर पहुंच उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया जहां से चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल रेफर कर दिया। स्वजन उसे इलाज के लिए गोरखपुर एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराए जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। रिकू दो भाई व एक बहन में बड़ा था। पिता उच्च विद्यालय बड़कागांव में क्लर्क के पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। इस घटना के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। चौथी घटना दारौंदा की है। शेरही निवासी वासुदेव की मौत सारण जिले के मांझी में मंगलवार को ट्रक की चपेट में आने से हो गई। बताया जाता है कि रोहित अपने साला शिवकुमार महतो को पहुंचाने के लिए मांझी थाने के गुरदाहां बाइक से जा रहा था। बाइक शिवकुमार महतो चला रहा था तभी पीछे से ट्रक की चपेट में आने से रोहित कुमार की मौत घटनास्थल पर हो गई। मंगलवार को रोहित का शव आते ही स्वजनों में कोहराम मच गया। रोहित की पत्नी हेवांती देवी समेत अन्य स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। रोहित को तीन पुत्र अरुण महतो, संदीप महतो एवं हरिलाल महतो एवं एक पुत्री है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.