महान शिल्पी फणीभूषण दा को मिले पद्मभूषण, पूरे शहर से उठी आवाज

सीतामढ़ी। सीतामढ़ी के गौरव महान शिल्पी शिल्पर्षि फणीभूषण विश्वास जी के लिए वर्ष 2022 के पद्मभूष

JagranWed, 28 Jul 2021 11:16 PM (IST)
महान शिल्पी फणीभूषण दा को मिले पद्मभूषण, पूरे शहर से उठी आवाज

सीतामढ़ी। सीतामढ़ी के गौरव महान शिल्पी शिल्पर्षि फणीभूषण विश्वास जी के लिए वर्ष 2022 के पद्मभूषण अलंकरण हेतु आवाज बुलंद होने लगी है। बजाब्ता एक फोरम गठित हुआ है। आम जन, संस्था, सरकारी अफसर, जिलाधिकारी, जज, जनप्रतिनिधि, विधायक, सांसद के द्वारा सरकार से मांग करनी है। इसी उद्देश्य से बुधवार को सीतामढ़ी की वरिष्ठतम चिकित्सक और समाजसेवी डॉ. रेणु चटर्जी की अध्यक्षता में शिल्पर्षि फणीभूषण विश्वास कला एवं शिल्प फाउंडेशन ने पुरजोर मांग उठाई। अब तक सबसे अधिक पद्म पुरस्कार मधुबनी पेंटिग के लिए दरभंगा जिला को ही मिला है जिसके लिए पूरा श्रेय उस क्षेत्र के जागरूक जनता, पत्रकार, अफसर, जनप्रतिनिधि को जाता है। यदि मिथिला क्षेत्र की कला को इतनी बड़ी वैश्विक पहचान दिलायी जाए? सकती है तो मां मैथिली की भूमि को अपनी मूर्तिकृति से एक विशिष्ट पहचान देनेवाले फणीभूषण विश्वास जी के माध्यम से सीतामढी जिले को पद्मभूषण से क्यों न अलंकृत करवाने में जुट जाया जाए। अत: सीतामढ़ी के आम जन से निवेदन है कि अधिक से अधिक व्यक्ति/संस्थान/सरकारी अधिकारी/ जनप्रतिनिधि अपनी ओर से नॉमिनेशन करें ताकि, सीतामढी जिले का नाम रौशन हो। वरिष्ठ पुरातत्ववेत्ता रामशरण अग्रवाल ने कहा कि फणी दा एकीकृत सीतामढ़ी के कलात्मक पहचान रहे हैं; इसलिए वर्तमान के जितने भी विधायक हैं उन्हें एकजुट भाव से पद्मभूषण के लिए अपनी अनुशंसा करनी चाहिए। फाउंडेशन की अध्यक्ष और फणी जी की सुपुत्री डॉ. पल्लवी विश्वास ने बताया कि इसमें अभी तक लोगों में भ्रांतियां हैं कि सिटीजन नॉमिनेशन कैसे किया जाए? इसमें यहीं कुछ बातें स्पष्ट करना है- जैसे अब नॉमिनेशन केवल ऑनलाइन ही हो रहा है। जिसे अब कोई भी नागरिक अपने स्तर से कर सकता है। इसके लिए बने हुए पोर्टल क्कड्डस्त्रद्वड्डड्ड2ड्डह्मस्त्रह्य.द्दश्र1.द्बठ्ठ/द्यश्रद्दद्बठ्ठ.ड्डह्यश्च3 पर जाकर सबसे पहले अपना रजिस्ट्रेशन करना है। उसके बाद लॉगिन करना है। लॉगिन करने के बाद उसमें नॉमिनी के बारे में मांगी जानकारियां भरकर सबमिट कर देना है। जितना अधिक लोग यह प्रक्रिया पूरी करेंगे उतनी अधिक संभावना बनेगी पद्म पुरस्कार मिलने की। फाउंडेशन के सचिव अविनय ने कहा कि चूंकि इस पद्म अवार्ड के नॉमिनेशन में सरकारी अधिकारियों, जन प्रतिनिधियों, जजों, संस्थाओं का वोट काउंट एक बड़ा महत्व रखता है इसलिए अपने जिला के लिए एक पद्म पुरस्कार जीतने के उद्देश्य से सबको जागरूक होना चाहिए। पत्रकार सम्मेलन में डॉ. रेणु चटर्जी, रमण विश्वास पं. अविनय काशीनाथ,आयुर्मान यास्क, मदन प्रसाद, ललित कुमार सिंह, रामशरण अग्रवाल आदि शामिल थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.