एनएम समीकरण से मुसलमान बच्चों की होगी भलाई : खुर्शीद

सीतामढ़ी। राज्य सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण एवं गन्ना मंत्री खुर्शीद आलम उर्फ फिरोज अहमद ने कहा कि एनएम (नीतीश-मुस्लिम) समीकरण से ही मुसलमान समाज के बच्चों की भलाई होगी। मुसलमान किसी बहकावे में नहीं आएं। नीतीश सरकार ने मुसलमानों के विकास के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं चलाई है जिसका लाभ समाज को मिल रहा है। वे रविवार को शहर के गांधी मैदान में आयोजित जिला जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ कार्यकर्ता सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। कहा कि वर्ष 1990 से 2005 तक के सरकार के मुखिया लालू प्रसाद द्वारा हमें बकरी चराने वाला और मुर्गी चराने वाला कहा जाता था। लेकिन आज नीतीश सरकार में मुसलमानों को अपने बच्चे-बच्चियों को स्कूल भेजने को कहा जाता है। नीतीश कुमार इन बच्चों को डॉक्टर, इंजीनियर और कलक्टर बनाने की बात करते हैं। पटना में हज कमेटी द्वारा संचालित इंस्टीच्यूट में पढ़ कर अल्पसंख्यक समाज के 23 बच्चे बीपीएससी में उत्तीर्ण हुए हैं। जिनमें तीन बच्चियां हैं। यह सब नीतीश सरकार की देन है। सम्मेलन में आने के दौरान मेहसौल चौक पर उनके वाहन को रोककर किए गए विरोध से नाराज मंत्री ने लालू प्रसाद यादव पर जमकर हमला बोला। कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में जिस परिवार का मुखिया जेल में और परिवार बेल पर है वह संविधान की बात करता है। 15 वर्षों की सरकार ने अल्पसंख्यकों के लिए कुछ नहीं किया। भागलपुर दंगा के बारे में कुछ नहीं बोला। लेकिन नीतीश सरकार ने इसकी जांच करा कर न सिर्फ दोषियों को सजा दिलाई बल्कि दंगा पीड़ित परिवारों को पेंशन दे रही है। अल्पसंख्यक कल्याण एवं विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाने की अपील करते हुए कहा कि वर्ष 2004-05 में अल्पसंख्यक विभाग का योजना व्यय जो मात्र 3.45 करोड़ रुपये था। उसे नीतीश सरकार ने बढ़ा कर 2018-19 में 438 करोड़ रुपये कर दिया। मुख्यमंत्री विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के तहत वर्ष 2017 से बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के साथ-साथ मदरसा बोर्ड से फोकानिया परीक्षा में प्रथम श्रेणी में उतीर्ण छात्र-छात्राओं एवं मौलवी परीक्षा में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण छात्राओं को प्रोत्साहन राशि दिया जा रहा है। अल्पसंख्यक रोजागर योजना के तहत नीतीश सरकार वर्ष 2017-18 से ही अल्पसंख्यक युवक-युवतियों को अधिक से अधिक रोजगार ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 25 करोड़ रुपये की राशि के स्थान पर सौ करोड़ रुपये उपलब्ध करा रही है। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में जागरूक करने के लिए मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक छात्रावास योजना लागू की गई है। इसके तहत छात्रावास में रह कर अध्ययन करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रति माह एक हजार रुपये का अनुदान दिया जा रहा है। साथ ही 15 किलो मुफ्त अनाज दिया जा रहा है। सम्मेलन की अध्यक्षता जदयू जिलाध्यक्ष राणा रणधीर ¨सह चौहान व संचालन अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष वशीर अंसारी ने किया। नीतीश कुमार ने बिहार में लगा दी विकास की झड़ी: राय

सीतामढ़ी : पूर्व सांसद नवल किशोर राय ने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार ने बिहार में विकास की झड़ी लगा दी है। सामाजिक न्याय के साथ सरकार सभी जाति-धर्म के लोगों का विकास कर रही है। लेकिन विकास विरोधी लोगों को यह रास नहीं आ रहा है। लोकतंत्र में विरोध का सभी को अधिकार है। लेकिन जिस तरह से सम्मेलन में आने के दौरान मुख्य अतिथि अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री को विरोधियों ने विरोध कर अपमानित करने का काम किया वह ¨नदनीय है। इसका जवाब जनता आने वाले चुनाव में देगी। पूर्व सांसद ने सीतामढ़ी में अल्पसंख्यक छात्रावास बनाने की मांग मंत्री से की। अल्पसंख्यक समाज के विकास को नीतीश सरकार संकल्पित : चौधरी

सीतामढ़ी: रून्नीसैदपुर की पूर्व विधायक गुड्डी चौधरी ने कहा कि नीतीश सरकार अल्पसंख्यक समाज के विकास के लिए संकल्पित है। वर्ष 2005 में बनी नीतीश सरकार आज तक हर वर्ग के लोगों के लिए काम कर रही है। सरकार में पांच हजार कब्रिस्तानों की घेराबंदी कराई गई है। हुनर कार्यक्रम के माध्यम से अल्पसंख्यक समाज की लड़कियों को प्रशिक्षण देकर स्वावलंबी बनाया गया है। सीतामढ़ी जिला शांति व महिला सशक्तिकरण का प्रतीक : डा: गीता

सीतामढ़ी: बाजपट्टी विधायक सह पूर्व मंत्री डा.रंजू गीता ने कहा कि अल्पसंख्यक समाज के कल्याण के लिए नीतीश सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही है। नीतीश कुमार ने कभी ठगने का काम नहीं किया। हर पंचायत वार्ड में विकास के लिए सात निश्चय योजना को लागू किया। जो देखने को मिल रहा है। सीतामढ़ी जिला शांति व महिला सशक्तिकरण का प्रतीक है। पूरे बिहार में एकमात्र सीतामढ़ी जिला ही है जो महिला के नाम पर है। उन्होंने अल्पसंख्यक समाज के लोगों को आगामी चुनाव में किसी बहकावे में न आकर विकास के लिए दिल में झांक कर नीतीश सरकार का समर्थन करने की अपील की। एकजुट हो नीतीश का साथ दें: महतो

सीतामढ़ी: विधान पार्षद रामेश्वर कुमार महतो ने कहा कि नीतीश कुमार सभी के नेता हैं। नीतीश सरकार जात नहीं जमात के विकास की बात करती है। बिहार के विकास के लिए नीतीश सरकार ने जो काम किया है वह बिहार के इतिहास के पन्नों पर स्वर्णाक्षरों में लिखा जाएगा। विकास के साथ नीतीश ने किया समाज सुधार का काम: सरफुद्दीन

सीतामढ़ी: शिवहर विधायक सरफुद्दीन ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार के विकास के साथ-साथ समाज सुधार का काम भी किया है। नीतीश कुमार पूरे बिहार के लिए काम करते हैं। काम करने वाले पर लोग क्लेम करते हीं हैं। अल्पसंख्यकों एवं बिहार के विकास के लिए नीतीश ने जो काम किया है वह कोई न किया था और न करेगा। अगर अल्पसंख्यक समाज नीतीश को भूलेगा तो कोई भी अल्पसंख्यक पर विश्वास नहीं करेगा। इस्लाम में शराब व दहेज दोनों ही हराम है। इस हराम चीज को बंद कर नीतीश कुमार ने मुसलमानों के हित में कदम उठाया है। मुसलमान किसी का गुलाम नहीं : ओबैदुल्लाह

सीतामढ़ी: केसरिया के पूर्व विधायक ओबैदुल्लाह ने कहा कि मुसलमान किसी का गुलाम नहीं है। उसका कोई माफी कर सकता है तो वह केवल अल्लाह है। मुसलमानों को पॉकेट का समझने वाले विरोधी दल के लोगों ने ही आज के सम्मेलन में आ रहे मंत्री का घेराव किया है। उन्हें लग रहा है कि आज मुसलमान नीतीश कुमार के साथ है जिससे उनमें घबराहट है। विधायक के इशारे पर हुआ मंत्री का घेराव : मंसूरी

सीतामढ़ी: राज्य अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व सदस्य लियाकत मंसूरी ने अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री का घेराव किए जाने पर रोष जताते हुए कहा कि विधायक के इशारे पर लोगों ने मंत्री का घेराव किया है। ये वहीं लोग हैं जो भागलपुर दंगा के बाद 15 वर्षों तक बिहार पर हुकूमद किए हैं। लालू यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि लालू यादव ने वोट के लिए माय समीकरण का नारा दिया था। मुसलमानों के लिए न तो कोई योजनाएं चलाई और न ही इंसाफ दिलाया।

सम्मेलन को पूर्व विधायक राजिया खातून, प्रदेश महासचिव सैयद शमीम आलम, प्रदेश नेता अब्दुल्लाह, पूर्व जिलाध्यक्ष ज्याउद्दीन खां, नागेंद्र प्रसाद ¨सह, रमेश कुमार, धीरेंद्र पटेल, किरण गुप्ता, शोभा देवी, प्रो.अमर ¨सह, राणा राजीव, शादाब अहमद, पूर्व प्रमुख जावेद इकबाल, जमालुद्दीन दानिश, जफरूल्लाह खान, जब्बार राईन, गुलाम गौस, सुजीत कुमार, अजय मंडल, दिनेश कुमार, ललन कुमार आदि ने संबोधित किया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.