डीएम की पहल पर बीएड के 77 छात्र-छात्राएं हुईं परीक्षा में शामिल

सीतामढ़ी। डीएम डॉ. रणजीत कुमार ¨सह के प्रयास पर जिले के बीएड के 77 छात्र-छात्राओं का एक साल बर्बाद होने से बच गया। डीएम के हस्तक्षेप से परीक्षा के दो घंटे पहले छात्र-छात्राओं को एडमिट कार्ड मिला और वे परीक्षा में शरीक हुए। बताते चले कि गौतम बुद्धा बीएड कॉलेज के 65 और एक अन्य बीएड कॉलेज के 12 छात्र-छात्राओं का परीक्षा फॉर्म नहीं भरा जा सका था। कॉलेज प्रशासन के टालमटोल और लापरवाही के चलते बच्चे परीक्षा फॉर्म भरने से वंचित रह गए थे। इसको लेकर उनमें भारी आक्रोश था। वे लगातार सड़क जाम कर प्रदर्शन कर रहे थे। डीएम ने मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए एसडीओ सदर मुकुल कुमार गुप्ता सहित वरीय पदाधिकारियों को इस समस्या के निष्पादन का निर्देश दिया। डीएम ने खुद वीसी से लगातार संवाद बनाए रखा। इतना ही नही डीएम ने फॉर्म मंगवा कर समाहरणालय में भरवाया। एक वरीय पदाधिकारी को परिक्षार्थियों के साथ एडमिट कार्ड और अन्य आवश्यक सहयोग के लिए भेजा। डीएम की इस पहल के बाद सभी वे परीक्षा दे रहे हैं। परिक्षार्थियों ने डीएम के प्रयास की सराहना की। वहीं आभार जताया। छात्र-छात्राओं ने कहा कि डीएम सर, इज ग्रेट।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.