अधिकारियों ने सरकारी अस्पतालों का किया निरीक्षण

छपरा। सरकार के निर्देश पर जिलाधिकारी द्वारा वरीय अधिकारियों की टीम ने बुधवार को मशरक, बनियापुर, नगरा सहित जिले के विभिन्न प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण किया। मशरक प्राथमिक स्वास्थ केंद्र का औचक निरीक्षण बुधवार को मढौरा डीसीएलआर सुनिल कुमार ने किया । उनके साथ बीडीओ रणजीत कुमार ¨सह भी मौजूद रहे । उपस्थिति पंजी की जांच में एक साथ चार चिकित्सक को आकस्मिक अवकाश में देख जांच अधिकारी हैरान रह गए । यही नहीं चिकित्सकों का ड्यूटी रोस्टर एवं अन्य अभिलेख भी अधूरा मिला । अस्पताल परिसर में मरीज प्रतीक्षालय में टीवी सेट , पेयजल आरओ सहित अन्य सुविधा भी नदारद पाई गई। नये भवन में शल्य कक्ष एवं ओपीडी कमरा होने के बावजूद भी जर्जर भवन में ओपीडी चलाए जाने को अधिकारी ने गंभीरता से लिया। जांच के दौरान डीसीएलआर ने मरीज कक्ष , एक्सरे , जेनरेटर , सफाई का भी जायजा लिया । चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि अल्ट्रासाउंड नहीं होता है, जांच घर नही है। वही एक्सरे आउट सोर्सिंग से चलाया जाता है।

संसू,बनियापुर के अनुसार जिला से गठित जांच टीम द्वारा बुधवार को रेफरल अस्पताल का औचक निरीक्षण किया गया। जहां महिला चिकित्सक छुट्टी पर थी और प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ड्यूटी पर तैनात पाए गए। जिला पंचायत पदाधिकारी शंभू नाथ द्वारा रेफरल का औचक निरीक्षण किया गया। जहां चिकित्सा प्रभारी एपी गुप्ता अपने ड्यूटी पर तैनात पाए गए। जांच टीम द्वारा अस्पताल की व्यवस्था की भी जांच की गई। लेकिन जांच टीम जांच से संबंधित कुछ बताने परहेज किया

संसू, नगरा के अनुसार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नगरा में बुधवार को वरीय उपसमाहर्ता श्रीकुमार ओम केश्वर द्वारा निरीक्षण किया गया.निरीक्षण के क्रम मे कर्मचारियों एवं चिकित्सा पदाधिकारी की उपस्थिती पंजी, ड्यूटी रोस्टर एवं अस्पताल परिसर की साफ सफाई एवं दावा वितरण, ओपीडी सहित अन्य का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान चिकित्सक एवं कर्मचारी उपस्थित थे। ।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.