सारण में सरकारी स्कूलों के दिव्यांग बच्चे खेल से दिखाएंगे प्रतिभा

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले दिव्यांग बच्चे विभिन्न तरह के खेल व सांस्कृतिक कार्यक्रमों से प्रतिमा दिखाएंगे। इसके लिए बीडीओ को पत्र जारी किया गया है।

JagranTue, 05 Oct 2021 03:54 PM (IST)
सारण में सरकारी स्कूलों के दिव्यांग बच्चे खेल से दिखाएंगे प्रतिभा

जागरण संवाददाता, छपरा : सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले दिव्यांग बच्चे विभिन्न तरह के खेल व सांस्कृतिक गतिविधियों से प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। इसको लेकर खेल सांस्कृतिक प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के परियोजना निदेशक श्रीकांत शास्त्री ने जिला शिक्षा पदाधिकारी अजय कुमार सिंह को पत्र भेजा है।

पत्र में कहा है कि दिव्यांगों के प्रति लोगों के व्यवहार में बदलाव लाने, उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने और स्कूल में अध्ययनरत बच्चों की क्षमताओं के प्रति विश्वास और विकास के अवसर सृजित करने के लिए प्रतियोगिताएं आयोजित की जाए। स्कूलों में दिव्यांग बच्चों के बीच सालों भर खेल व अन्य सांस्कृतिक गतिविधि का आयोजन किया जाए। तीन से 18 साल के छात्र- छात्रा लेंगे प्रतियोगिता में हिस्सा

इसको लेकर विश्व दिव्यांगता दिवस (तीन दिसंबर) से पहले स्कूलों में प्रतियोगिता का आयोजन करना है। शिक्षा परियोजना निदेशक ने निर्देश दिया है कि तीन से 18 साल के बच्चे जो कि नियमित विद्यालयों में अध्ययनरत हैं, उन्हें ही इस प्रतियोगिता में शामिल करना है। बच्चों की उम्र और कक्षा को ध्यान में रखते हुए समूहों में बांटकर गतिविधियों का आयोजन करना है। स्कूलों में एक दिसंबर के पहले प्रतियोगिता का आयोजन करना है। स्कूल स्तर पर विजेता प्रतिभागी दो दिसंबर को प्रखंड स्तर पर आयोजित प्रतियोगिता में भाग लेंगे। प्रखंड स्तर के विजेता छात्र - छात्रा जिला स्तर पर आयोजित प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगे।

जलेबी दौड़, सुई धागा प्रतियोगिता व नृत्य संगीत की होगी प्रतियोगिता

बच्चों की शारीरिक बौद्धिक क्षमता को ध्यान में रखते हुए स्थानीय खेल जिसमें दौड़, जलेबी दौड़, सुई धागा प्रतियोगिता, ट्राई साइकिल दौड़, साइकिल दौड़, कबड्डी, डिस्कस थ्रो, गोला थ्रो, कला प्रतियोगिता, नृत्य संगीत और सांस्कृतिक गतिविधियों का आयोजन कराया जाएगा। बच्चों के लिए लेखन प्रतियोगिता होगी। इन बच्चों के बीच वाद-विवाद प्रतियोगिता भी कराई जाएगी। ²ष्टिबाधित बच्चों के लिए विशेष रूप से ब्रेल लेखन - वाचन प्रतियोगिता करना है। इसमें शामिल होने वाले सभी छात्र-छात्राओं को गर्म कपड़े, जूते, बैग आदि दिए जाएंगे। पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले को प्रमाण पत्र व स्मृति चिह्न दिया जाएगा।

------------

सारण जिले के स्कूलों में दिव्यांग बच्चों के बीच विश्वास व विकास को बढ़ावा देने के लिए खेल व सांस्कृतिक गतिविधियां कराई जाएंगी। शिड्यूल के तहत कराने का निर्देश बीडीओ व प्रधानाध्यापक को दे दिया गया है।

अजय कुमार सिंह, जिला शिक्षा पदाधिकारी, सारण। -------------

- 01 दिसंबर को स्कूल स्तर पर प्रधानाध्यापक को करानी है कार्यक्रम

- 02 दिसंबर को प्रखंड स्तर पर करना है प्रतियोगिता जो जिला स्तर पर में लेंगे भाग

- 03 दिसंबर को जिलास्तर पर आयोजित किया जाएगा खेल व सांस्कृतिक प्रतियोगिता

- 03 से 18 साल के छात्र-छात्रा लेंगे खेल व सांस्कृतिक प्रतियोगिता में हिस्सा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.