राष्ट्रीय पोषण अभियान की जमीनी हकीकत से रूबरू हुई राज्यस्तरीय टीम

आइसीडीएस की ओर से 1 से 30 सितंबर तक चलाए जा रहे राष्ट्रीय पोषण माह की जमीनी स्थिति से अवगत होने के लिए राज्यस्तरीय टीम ने उजियारपुर में विभिन्न आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया।

JagranSun, 26 Sep 2021 12:09 AM (IST)
राष्ट्रीय पोषण अभियान की जमीनी हकीकत से रूबरू हुई राज्यस्तरीय टीम

समस्तीपुर । आइसीडीएस की ओर से 1 से 30 सितंबर तक चलाए जा रहे राष्ट्रीय पोषण माह की जमीनी स्थिति से अवगत होने के लिए राज्यस्तरीय टीम ने उजियारपुर में विभिन्न आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया। इस टीम में राज्य स्तरीय पोषण सलाहकार डॉ मनोज कुमार, चंदा कुमारी, जिला परियोजना सहायक मनोज कुमार चौधरी एवं प्रखंड परियोजना सहायक मो. इम्तेयाज अहमद शामिल थे। टीम ने गावपुर पंचायत अंतर्गत केंद्र संख्या 307 का निरीक्षण किया। जिसमें केंद्र पर चल रही पोषण गतिविधि की जांच की। आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका विदु कुमारी से बच्चों के पोषण स्तर एवं उनको दी जा रही पौष्टिक आहार के बारे की गई कार्यो की समीक्षा की। पोषण ट्रैकर एप में प्रविष्टि किए गए लाभुक एवं उसमें सेविका द्वारा किए जा रहे कार्यो की भी समीक्षा की गई। सेविका द्वारा दिए गए जबाव के उपरांत उन्हें टीम में शामिल पोषण सलाहकार ने वृद्धि निगरानी, गोद भराई, अन्नप्राशन, ईसीसीई गतिविधि के बारे में उचित परामर्श दिया। टीम ने पोषक क्षेत्र के लाभुकों का गृह भ्रमण कर उनसे बातचीत भी की। बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिए उचित आहार जरूरी

हसनपुर : प्रखंडवासियों को पोषण की सही जानकारी देने और उन्हें पोषण के प्रति जागरूक करने के लिए समेकित बाल विकास परियोजना द्वारा पूरे सितंबर माह को पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। इस दौरान प्रखंड से लेकर ग्रामीण स्तर तक विभिन्न तरह की गतिविधियों का आयोजन कर लोगों को सही पोषण की जानकारी दी जा रही है। इसी कड़ी में शनिवार को मरांची उजागर आंगनबाड़ी केंद्र संख्या-116 परिसर में सेविका अनिता कुमारी की अध्यक्षता में पोषण मेला का आयोजन किया गया।

इसमें ईसीडीएस, शिक्षा, स्वास्थ्य के साथ अन्य विभाग भी शामिल रहे। पोषण के विभिन्न तत्वों की जानकारी दी गई। वहीं शिक्षा विभाग द्वारा पोस्टर के माध्यम से सुपोषित होने का सुझाव दिया गया। वहीं स्वास्थ्य विभाग द्वारा कुपोषित बच्चों को सुपोषित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की सहभागिता, पोषण पुनर्वास केंद्र आदि की जानकारी दी गई। पोषण मेला से संबंधित जानकारी देते सीडीपीओ मीणा कुमारी ने कहा कि जिले में 01 से 30 सितंबर तक पोषण माह चलाया जा रहा है। जिसको लेकर आज पोषण मेला का आयोजन किया गया है। इसमें उपस्थित महिलाओं से नवजात शिशुओं को छह माह तक केवल मां का ही दूध देने की अपील की गई। उसके बाद स्तनपान के साथ ऊपरी आहार भी दें। इसके अलावा नवजात शिशुओं का नियमित टीकाकरण जरूर कराएं। अपने बच्चों का नियमित रुप से वजन करवाएं तथा खून की कमी होने पर पौष्टिक आहार जरूर दें। इस अवसर पर पोषक क्षेत्र की गर्भवती महिला पिकी देवी की गोदभराई और नवजात शिशु हर्षराज का अन्नप्राशन कराया गया। मौके पर नाजिर दिनेश सदा के अलावा सेविका प्रियंका कुमारी, उषा देवी, सोनी कुमारी, राधा देवी, पूनम देवी, अनिता देवी, सविता देवी, ममता कुमारी, रंजना देवी, पिकी देवी आदि मौजूद थीं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.