प्राणवायु के लिए हरियाली को बनाया मिशन

समस्तीपुर। विभूतिपुर प्रखंड के शिवनाथपुर गांव निवासी रामनाथ सिंह ने पर्यावरण संरक्षण को मिशन

JagranMon, 28 Jun 2021 11:20 PM (IST)
प्राणवायु के लिए हरियाली को बनाया मिशन

समस्तीपुर। विभूतिपुर प्रखंड के शिवनाथपुर गांव निवासी रामनाथ सिंह ने पर्यावरण संरक्षण को मिशन बना लिया है। हर रोज लोगों से मुलाकात और फोन पर संपर्क साधते हुए पौधारोपण के प्रति जागरूक कर रहे हैं। ताकि, निर्बाध ऑक्सीजन मिलती रहे। रामनाथ ने लीज पर जमीन लेकर खुद की नर्सरी खोल रखी है। यहां से पौधे तैयार कर ना सिर्फ बेचते हैं, बल्कि मुफ्त में लोगों को पौधे बांटते हैं। इनके नर्सरी में महोगनी, पॉपुलर, गम्हार, सागवान, अर्जुन, कचनार, केला, आंवला, आम आदि के पौधे उपलब्ध हैं। करीब 25 वर्ष पूर्व इन्होंने मिशन हरियाली का संकल्प लिया था। हरा बिहार एनजीओ से जुड़कर खूब नाम कमाया है। देश के विभिन्न राज्यों समेत नेपाल में भी इन्हें प्रशस्तिपत्र और पर्यावरण योद्धा तक का सम्मान मिला है। ये बताते हैं कि पर्यावरण के प्रति समर्पण ने मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के कार्यक्रम में इन्हें मंच संचालन का अवसर दिया है। विभिन्न अवसरों पर लोगों को पौधे भेंट कर पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दिलाता हूं। पौधा वाले गुरुजी राजेश कुमार सुमन, रामनाथ सिंह और त्रिपुरारी झा से प्रेरणा मिली है। हरियाली को मिशन का रूप दूंगा।

- नितेश कुमार, पर्यावरणसेवी कोरोना काल में ऑक्सीजन सिलेंडर की आवश्यकता ने सबको चेतने का संदेश दे दिया है। पर्यावरण संरक्षण पर बल देने की आवश्यकता है। पेड़- पौधे हमें ऑक्सीजन देते हैं। इसलिए पौधारोपन को हमें अपने संस्कार में शामिल करना चाहिए।

- पिटू कुमार, छात्र ऑक्सीजन चक्र की निरंतरता बरकरार रखने के लिए पौधारोपन के साथ पेड़- पौधों का संरक्षण जरूरी है। अपनी कक्षा में छात्रों को पौधारोपन के प्रति जागरूक करते हैं। साथ हीं स्वजनों को भी ऐसा करने की सलाह देते हैं।

- नरेंद्र पंडित, शिक्षक पेड़-पौधों की कटाई का दुष्परिणाम आए दिन देखने को मिल रहा है। पर्यावरण संरक्षण के लिए कानून बनाए गए हैं। यह तब तक सफल नहीं होगा, जबतक कि हमलोग अपनी जिम्मेदारी नहीं समझेंगे।

- राकेश नारायण सिंह, अधिवक्ता

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.