रंगदारी नहीं देने पर अपराधियों ने किराना व्यवसायी को गोलियों से भूना

समस्तीपुर। रंगदारी में मांगी गई पांच लाख की रकम अदा नहीं करने पर मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के उदाहाट के समीप रविवार की सुबह बाइक सवार अपराधियों ने एक किराना व्यवसायी की दुकान में घुसकर उन्हें गोलियों से भून डाला।

JagranMon, 27 Sep 2021 12:49 AM (IST)
रंगदारी नहीं देने पर अपराधियों ने किराना व्यवसायी को गोलियों से भूना

समस्तीपुर। रंगदारी में मांगी गई पांच लाख की रकम अदा नहीं करने पर मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के उदाहाट के समीप रविवार की सुबह बाइक सवार अपराधियों ने एक किराना व्यवसायी की दुकान में घुसकर उन्हें गोलियों से भून डाला। गंभीर रूप से घायल व्यवसायी को तत्काल मुसरीघरारी स्थित एक निजी क्लीनिक में भर्ती कराया, जहां से उन्हें चिताजनक स्थिति में समस्तीपुर सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। सदर अस्पताल के चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक की पहचान उदाहाट निवासी चंद्र भूषण प्रसाद (64) के रूप में की गई है। घटना से आक्रोशित लोगों ने मुसरीघरारी चौराहे पर आगजनी कर पुलिस विरोधी नारे लगाए। वहीं मृतक के शव के साथ बांस -बल्ली, ट्रक आदि से चौराहे को जाम कर दिया। घटना के संबंध में बताया गया है कि रोज दिन की तरह रविवार की सुबह व्यवसायी चंद्रभूषण प्रसाद अपनी दुकान पर बैठे थे। सुबह करीब 10 बजे एक बाइक पर सवार तीन नकाबपोश अपराधी वहां आ धमके। इनमें से एक अपराधी दुकान का काउंटर खिसकाकर अंदर घुस गया तथा उक्त व्यवसायी पर ताबड़तोड़ गोलियां दाग दी। सभी गोलियां उनके सिर, बांह एवं छाती में लगी है। घटना को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी हथियार लहराते हुए दक्षिण दिशा की ओर भाग निकले।

बताया जाता है कि पूर्व में मांगी गई रंगदारी को लेकर पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक से भी गुहार लगाई थी। एसपी के निर्देश पर मुसरीघरारी थाना में एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। अभी अनुसंधान पूरी भी नहीं हो पाई थी।

.. तो रंगदारी नहीं देने के कारण हुई व्यवसायी की हत्या सरायरंजन, संस: मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के उदाहाट निवासी किराना व्यवसायी की हत्या को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। लेकिन मृतक के स्वजनों की मानें तो पांच लाख की रंगदारी नहीं देने के कारण उक्त व्यवसायी की हत्या हुई है। इस आरोप के पीछे उन लोगों के पास पुख्ता सबूत है। विगत 1 सितंबर को उक्त व्यवसायी के मोबाइल पर मैसेज कर अपराधियों ने 5 लाख की रंगदारी देने की मांग की थी तथा रंगदारी नहीं देने पर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी थी। भयभीत व्यवसायी ने पुलिस अधीक्षक से गुहार लगाई। एसपी के निर्देश पर मुसरीघरारी थाना में प्राथमिकी भी दर्ज की गई। द्विवेदी नामक एक एएसआई को जांच का जिम्मा भी दिया गया। एएसआई जांच के लिए वहां जाते भी थे, लेकिन जांच पूरी होने से पूर्व ही हत्या कर दी गई। प्रत्यक्षदर्शी एक महिला ने यह भी बताया कि दुकान में घुसते ही अपराधी ने उन्हें धमकी देने के बाद गोली मारी। यह भी कहा कि एफआईआर करने से क्या होगा। पैसा नहीं दिया तो अब गोली खा।

सीसीटीवी फुटेज से हो सकती है अपराधियों की पहचान सरायरंजन, संस : मृत व्यवसायी के स्वजनों की मानें तो उनकी दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाले जाने से अपराधियों की पहचान की जा सकती है। हालांकि सभी अपराधी नकाबपोश थे, फिर भी उनकी पहचान की जा सकती है। अपराधियों ने पहले दुकान के काउंटर पर खड़ी एक महिला को धक्का देकर गिरा दिया। इसके बाद लकड़ी के बने काउंटर को खिसकाकर अंदर चले गए और किराना व्यवसायी को गोलियों से भून डाला। भीड़ को नियंत्रित करने को ले पुलिस ने चटकाई लाठियां सरायरंजन, संस : व्यवसायी हत्याकांड को लेकर रविवार को स्थानीय लोग ढाई घंटे से मुसरीघरारी चौराहे को जाम कर खड़े थे। सड़क जाम हटाने के लिए सदर डीएसपी शाबान हबीब फाखरी को खुद पुलिस बल के साथ जाम स्थल पर पहुंचना पड़ा। जामस्थल पर पहुंचकर उन्होंने लोगों को समझाने -बुझाने का प्रयास किया। इससे लोग और भी उग्र हो गए और पुलिस बल के साथ धक्का-मुक्की करने लगे। विवश होकर पुलिस को हल्की लाठी चार्ज करनी पड़ी, जिससे कई पब्लिक और पुलिस भी घायल हो गए। जामस्थल से लोग तितर-बितर हो गए और पुलिस ने जल्द ही स्थिति को नियंत्रित कर लिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.