नामांकन की वर्जना में टूट रही बंदिशें

नामांकन की वर्जना में टूट रही बंदिशें
Publish Date:Thu, 13 Aug 2020 12:34 AM (IST) Author: Jagran

समस्तीपुर। शहर के महिला कॉलेज महाविद्यालय में बुधवार को ग्यारहवीं में नामांकन की वर्जना में बंदिशें टूटती नजर आई। छात्राओं ने न तो शारीरिक दूरी का पालन करना उचित समझा और न हीं मास्क लगाना मुनासिब समझा। महाविद्यालय प्रशासन भी इस ओर किसी भी तरह का ध्यान देना मुनासिब नहीं समझा। यह हाल सिर्फ महिला कॉलेजों का ही नहीं बल्कि अन्य कॉलेजों का भी है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने11वीं कक्षा में नामांकन को लेकर पहली मैरिट लिस्ट जारी कर दी है। इसके बाद नामांकन की प्रक्रिया जिले के सभी इंटर कॉलेजों और प्लस टू विद्यालयों में शुरू कर दी गई। बुधवार को जिला मुख्यालय स्थित कॉलेजों और प्लस टू विद्यालयों में छात्र- छात्राओं की भीड़ उमड़ी। कोरोना संक्रमण के बीच पहली बार शिक्षण संस्थान बंद रहने के बावजूद छात्र-छात्रा अपने घरों से निकले। इंटर में नामांकन के दौरान कोविड-19 नियमों का पालन करने के लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा जारी गाइडलाइन का कहीं भी पालन नहीं किया जा रहा है। छात्र-छात्रा भी बिना मास्क लगाए मजमा लगाकर खड़ी रहीं। हालांकि प्लस टू विद्यालयों में अभी नामांकन से अधिक मैट्रिक पास छात्र-छात्रा अंक पत्र, प्रोविजनल सर्टिफिकेट, स्थानांतरण प्रमाण पत्र लेने के पहुंचे थे। नामांकन प्रक्रिया ऑफलाइन से बढ़ी भीड़

शहर के महिला कॉलेज, बीआरअी कॉलेज, आरएनएआर कॉलेज, बालिका उच्च विद्यालय, आरएसबी इंटर विद्यालय में छात्र-छात्राओं की भीड़ उमड़ी रही। बिहार बोर्ड द्वारा इंटर में नामांकन के लिए ओएफएसएस के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन लिया था। उसके आधार पर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा पहला मैरिट लिस्ट जारी किया गया। लेकिन, नामांकन प्रक्रिया ऑफलाइन होने के कारण कॉलेजों में भीड़ बढ़ गई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.