कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास सफल

कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास सफल

कोरोना वैक्सीन की तैयारियों को परखने के लिए शुक्रवार को ड्राई रन हुआ। शहर के बंगाली टोला स्थित मीना आश्रय नर्सिंग होम और पुष्पलता हॉस्पीटल में यह ड्राई रन हुआ।

JagranFri, 15 Jan 2021 11:20 PM (IST)

समस्तीपुर । कोरोना वैक्सीन की तैयारियों को परखने के लिए शुक्रवार को ड्राई रन हुआ। शहर के बंगाली टोला स्थित मीना आश्रय नर्सिंग होम और पुष्पलता हॉस्पीटल में यह ड्राई रन हुआ। मीना आश्रय नर्सिंग होम में कार्यक्रम का शुभारंभ जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सतीश कुमार सिन्हा, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रवि कुमार गुप्ता और डॉ. अरविद कुमार ने किया। प्रत्येक केंद्र पर 25-25 कर्मचारी को शामिल होना था। सुबह 11 बजे से शुरू होकर ड्राई रन एक बजे तक चला। मौके पर डॉ. अनिल पासवान, डॉ. रहमान, डॉ. फहद, स्वास्थ्य प्रशिक्षक राजीव रंजन, एमएनई अभिनव कुमार, बीसीएम पूनम कुमारी, निरंजन कुमार, मोहतहसीन अहमद, प्रीति, घनश्याम झा, संतोष झा आदि उपस्थित रहे। वहीं दूसरी ओर पुष्पलता हॉस्पीटल का सिविल सर्जन डॉ. सत्येंद्र कुमार गुप्ता, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी आदि उपस्थित रहे। जांच के बाद ही मिली एंट्री

ड्राई रन को लेकर अस्पताल प्रबंधन पूरी तरह सजग था। डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. सुधानंद, यूनिसेफ के एसएमसी राजीव कुमार और पूरी टीम सतर्क थी। पूर्वाभ्यास में किसी तरह की दिक्कतें नहीं हुई। कोरोना वैक्सीन देने के बाद एक बॉक्स में एंटी एलर्जी इंजेक्शन का बॉक्स था। सिविल सर्जन ने बताया कि पूर्वाभ्यास पूरी तरह सफल रहा। कोरोना वैक्सीन की शुरुआत होने से पूर्व किए गए ड्राई रन से बहुत सारी चीजें पूरी तरह स्पष्ट हो गई। अब जब वैक्सीन लगने की शुरुआत होगी तो किसी तरह की दिक्कतें नहीं होगी। ड्राई रन का जो उद्देश्य था, उसमें शत प्रतिशत सफलता मिली है। कोरोना वैक्सीन लेने के लिए आधार कार्ड लाना जरूरी

कोरोना की वैक्सीन आज से लगनी शुरू हो जाएगी। निजी व सरकारी अस्पतालों में कार्यरत चिकित्सकों व कर्मियों को इसमें शामिल किया गया है। वैक्सीन के लिए आधार कार्ड लाना जरूरी किया गया है। बिना आधार कार्ड से वैक्सीनेशन नहीं किया जाएगा। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. सतीश कुमार सिन्हा ने बताया कि फिलहाल 50 वर्ष से अधिक उम्र के स्वास्थ्य कर्मियों को टीका नहीं लगाया जाएगा। चाहे वे स्वस्थ हो या बीमार। इसमें मधुमेह व ब्लड प्रेशर वाले को भी शामिल किया गया है।

शारीरिक दूरी का सख्ती से करना होगा पालन

सिविल सर्जन ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि टीकाकरण केंद्रों पर शारीरिक दूरी का पूरा पालन कराया जाएगा। लोगों के बीच छह फीट की दूरी अनिवार्य रूप से होगी। सख्ती से कोरोना के नियमों का पालन हो। टीकाकरण के पांच चरणों की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही टीका लेने वाले को बाहर जाने दिया जाएगा। स्वास्थ्य कर्मियों से दवा सेवन की ली जा रही जानकारी

अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वैक्सीन के पहले दिन 50 वर्ष से कम उम्र के स्वास्थ कर्मियों को ही शामिल किया गया है। दवा सेवन करने वालों को बाद में टीका दिया जाएगा। मधुमेह और ब्लड प्रेशर की दवा लेने वाले को भी पहले दिन की वैक्सीनेशन में शामिल नहीं किया जा रहा है। पोर्टल से मैसेज भेजने में हुई परेशानी

कोरोना वैक्सीन के लिए चिह्नित लोगों को पोर्टल के माध्यम से मैसेज भेजने में काफी परेशानी हुई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.