कैमूर पहाड़ी के जंगलों में तीन मिनी शराब कारखाने का भंडाफोड़ उदभेदन

कैमूर पहाड़ी पर स्थित गांवों एवं जंगलो में स्थानीय थाने की पुलिस व एसएसबी जवानों ने सोमवार शराब व नक्सलियों के विरुद्ध सघन छापेमारी अभियान चलाया। इस दौरान तीन मिनी शराब कारखाने का भंडाफोड़ हुआ।

JagranPublish:Mon, 22 Nov 2021 08:59 PM (IST) Updated:Mon, 22 Nov 2021 08:59 PM (IST)
कैमूर पहाड़ी के जंगलों में तीन मिनी शराब कारखाने का भंडाफोड़ उदभेदन
कैमूर पहाड़ी के जंगलों में तीन मिनी शराब कारखाने का भंडाफोड़ उदभेदन

संवाद सूत्र, नौहट्टा: रोहतास। कैमूर पहाड़ी पर स्थित गांवों एवं जंगलो में स्थानीय थाने की पुलिस व एसएसबी जवानों ने सोमवार शराब व नक्सलियों के विरुद्ध सघन छापेमारी अभियान चलाया। इस दौरान तीन मिनी शराब कारखाने का भंडाफोड़ हुआ। पहाड़ी पर बसे धनसा, बुधुआ, रेहल, कुबा, सोली, बरकट्टा, जोंहा व हुरमेठा के जंगलों में नक्सलियों के साथ शराब की धर पकड़ के लिए सुरक्षा बलों ने छापेमारी की। थानाध्यक्ष संजय कुमार वर्मा ने बताया कि छापेमारी के दौरान हुरमेठा जंगल के रास्ते से होकर गुजर रही पुलिस की नजर बखार नदी के किनारे एक मिनी शराब निर्माण कारखाना पर पड़ी, जहां शराब व उसके बनानेके उपकरण थे। बरामद सामग्री को पुलिस ने नष्ट कर शराब अड्डा को ध्वस्त कर दिया। वहीं नदी के रास्ते पुलिस जब नीचे उतरने लगी, तो दो अन्य शराब निर्माण कारखाना पुलिस को मिला, जहां शराब चुलाई के लिए जलता हुआ चूल्हा पकड़ा गया। इन जगहों से भारी मात्रा में शराब निर्माण के लिए डाले गए महुआ पास समेत अन्य सामग्री बरामद की गई। पुलिस ने बरामद सामग्री को नष्ट कर मिनी शराब कारखाना को पूरी तरह ध्वस्त कर दिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि संभवत: पुलिस के आने की भनक लगते ही शराब भट्ठी संचालक जंगल का लाभ लेकर भाग गए। जल रही आग से प्रतीत होता है कि शराब निर्माण अड्डा संचालक पास में ही मौजूद है। अभियान एएसपी ओमकार नाथ सिंह ने बताया कि पहाड़ी नदी के किनारे नक्सलियों व शराब तस्करों का अड्डा बना रहता है। एरिया डोमिनेशन का कार्य प्रतिदिन चल रहा है। शराब कारोबार करने वाले व नक्सलियों के विरुद्ध कार्रवाई लगातार चलती रहेगी। अभियान मे एसएसबी के रवि कुमार, पवन कुमार सिंह, शशि कुमार समेत एसएसबी के जवान शामिल थे। बता दे कि कि पहाड पर जाने वाला रास्ता जर्जर होने के कारण पुलिस को जंगल में पहुचने मे परेशानी होती है, जिससे पुलिस के आने की सूचना भी नक्सलियों व शराब तस्करों को मिल जाती है। जिसके कारण गिरफ्तारी नही हो पाती। चुटिया थाना क्षेत्र के मधुकूपीया सोनडीला में थानाध्यक्ष मंगल सिंह के नेतृत्व में छापेमारी अभियान चलाया गया। जहां से पांच लीटर महुआ शराब के साथ संजय चौधरी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार तस्कर नौहट्टा थाना क्षेत्र के उल्ली गांव का रहने वाला है।