लापरवाही: शहर को स्वच्छ व सुंदर बनाने के नप के प्रयासों पर फिर रहा पानी

घर नल जल योजना के तहत पाइप बिछाने के लिए गलियों व सड़कों को खोदकर किए गए गड्ढे डेहरी शहरवासियों के लिए परेशानी का कारण बनते जा रहा है। विडंबना यह है कि पीने का शुद्ध पानी लोगों के घरों तक तो पहुंचा नहीं परंतु मोहल्लों में करोड़ों की बनी पक्की सड़कें बर्बाद हो गई।

JagranSun, 13 Jun 2021 10:05 PM (IST)
लापरवाही: शहर को स्वच्छ व सुंदर बनाने के नप के प्रयासों पर फिर रहा पानी

संवाद सहयोगी, डेहरी ऑन-सोन: रोहतास। घर नल जल योजना के तहत पाइप बिछाने के लिए गलियों व सड़कों को खोदकर किए गए गड्ढे डेहरी शहरवासियों के लिए परेशानी का कारण बनते जा रहा है। विडंबना यह है कि पीने का शुद्ध पानी लोगों के घरों तक तो पहुंचा नहीं, परंतु मोहल्लों में करोड़ों की बनी पक्की सड़कें बर्बाद हो गई।

विभागीय ठेकेदारों की इस लापरवाही का खामियाजा अब बारिश में लोगों को झेलना पड़ रहा है। दरअसल शहर में कछुए की गति से अमृत जलापूर्ति योजना के जरिए चल रही हर घर नल जल योजना के कारण सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। शहर के बारह पत्थर चौक मस्जिद रोड तक पाइप लाइन बिछाने के लिए सीमेंटेड रोड को तोड़कर कर ऊपर से केवल मिट्टी डाल कर छोड दिया गया है। कई जगह तो मिट्टी के ढेर लगा दिए गए है। जिससे आमजन के साथ से स्थानीय दुकानदारों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मिट्टी के ढेर रहने से दुकानदार धूल से परेशान रहते हैं। एक सप्ताह से बनी है यह परेशानी:

यह परेशानी पिछले करीब एक सप्ताह से बनी है। लोग आश्चर्य कर रहे हैं कि इस मामले में नगर परिषद खामोश क्यों है, जबकि उसी की देखरेख में यह काम होना चाहिए था। यह स्थिति सिर्फ बारह पत्थर चौक की ही नहीं है, शहर के उन तमाम मुहल्लों के लोग परेशान है, जहां इस योजना का कार्यान्वयन किया जा रहा है। अमृत जलापूर्ति योजना के तहत अंडरग्राउंड पाइप लाइन बिछाना है और इसके लिए सड़कों को खोदा जा रहा है। यहां तक तो लोग बात समझ रहे हैं, परंतु पाइप के लिए तोड़ी गई सड़क या इसके लिए किए गए गड्ढे परेशानी का सबब बना है। पाइप लाइन बिछाने के साथ होना चाहिए नल का कनेक्शन:

वार्ड पार्षद प्रतिनिधि गुड्डू चंद्रवंशी कहते हैं कि शहर के बीचोबीच स्थित बारह पत्थर चौक से अमृत जलापूर्ति योजना व नगर प्रशासन की लापरवाही से हर घर नल योजना को ले पाइप लाइन बिछाने के बाद सूरत बिगाड़ दी गई है। पाइपलाइन बिछाते समय सड़कें क्षतिग्रस्त भी हुई है। पाइप लाइन बिछाने के साथ ही कनेक्शन भी दे देना चाहिए था, लेकिन बुडको द्वारा लापरवाही बरती जा रही है। नगर प्रशासन को अविलंब इस ओर ध्यान देने की जरूरत है, ताकि इस तरह की समस्या फिर दोबारा न हो। कहते हैं अधिकारी:

अमृत जलापूर्ति योजना के प्रोजेक्ट इंचार्ज इंजीनियर अभिषेक आनंद ने बताया कि खोदे गए गड्ढे से मिट्टी निकाल कर उसकी जगह पर पानी बंद होते ही मरम्मत का काम कराया जाएगा। वार्ड संख्या 39 में पानी की सप्लाई चालू कर दी गई है। वार्ड संख्या 29, 13, 37 में पानी की टेस्टिग की जा चुकी है। बाकी एरिया में पानी सप्लाई इसलिए नहीं हो पाई है, क्योंकि विभाग द्वारा अभी तक रोड कटिग की मंजूरी नहीं दी गई है। अंबेडकर चौक से कब्रिस्तान तक आरसीडी रोड कटिग का परमिशन नहीं मिला है, इसी वजह से वहां कार्य रुका हुआ है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.