सर्वधर्म प्रार्थना सभा आज, कोरोना से मृत लोगों को हम सभी दें श्रद्धांजलि

कोरोना महामारी ने हमसे कई अपनों को जुदा कर दिया है। कई बच्चों ने अपना मां-बाप खोया है तो कई ने अपना बेटा। जबकि कई के सुहाग उजड़ गए हैं। बहरहाल कोरोना महामारी से कई परिवार की खुशियां छीन गई है।

JagranSun, 13 Jun 2021 10:03 PM (IST)
सर्वधर्म प्रार्थना सभा आज, कोरोना से मृत लोगों को हम सभी दें श्रद्धांजलि

जागरण संवाददाता, सासाराम : रोहतास। कोरोना महामारी ने हमसे कई अपनों को जुदा कर दिया है। कई बच्चों ने अपना मां-बाप खोया है, तो कई ने अपना बेटा। जबकि कई के सुहाग उजड़ गए हैं। बहरहाल कोरोना महामारी से कई परिवार की खुशियां छीन गई है। मृतकों की आत्मा की शांति के लिए श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए भी उपस्थित नहीं हो पाए। इस बात की कसक भी अबतक बरकरार है। उस जख्म को भरा तो नहीं जा सकता है, लेकिन आपस में साथ होने के एहसास मात्र से दुख को कम किया जा सकता है। सोमवार को 11 बजे दिन में आइए हम सब उन्हें दैनिक जागरण द्वारा आयोजित सर्व धर्म प्रार्थना सभा के माध्यम से श्रद्धांजलि अर्पित करें। जो जहां है, वहीं से 11 बजे दिन में दो मिनट का मौन रख मृतकों को श्रद्धांजलि तथा इस बीमारी ले लड़ रहे लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना भी करें। - कोरोना काल ने न जाने कितनी जिदगियों को लील लिया। अंतिम संस्कार के लिए भी सही तरीके से बहुत लोगों को मौका नहीं मिल पाया। हमें मिलकर ऐसे कोरोना योद्धाओं व तमाम लोगों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। मैं दैनिक जागरण की इस नवीन पहल की सराहना करता हूं।

उमाशंकर प्रसाद - कोरोना महामारी से जंग जीतने के लिए सभी धर्मों के लोगों ने प्रयास किया। जहां मंदिरों में पूजा-हवन हुए तो मस्जिद में भी कोरोना पीड़ितों के लिए दुआ तथा चर्च में प्रार्थना हुई। फिर भी न जाने हमारे कितने अपने हमेशा के लिए हमसे अलग हो गए। किसी के पिता, पति तो किसी के बच्चों को कोरोना ने उनसे छीन लिया है। इस बीच दैनिक जागरण के सर्वधर्म प्रार्थना अभियान से जुड़े सभी धर्मों के लोगों ने अपने-अपने धर्मावलंबियों से प्रार्थना करने की अपील की है। जागरण की यह सराहनीय है।

कमलेश मोहन, चकन्हा पैक्स अध्यक्ष - कोरोना संक्रमण से हालात बहुत अधिक विकट रहे। हमारे काफी व्यापारी भी संक्रमण का शिकार हुए। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति दें और इस महामारी से मुक्ति दिलाएं। इसी भाव के साथ आज दिन के 11 बजे ठीक वक्त पर प्रार्थना करेंगे तो निश्चित रूप से सकारात्मक परिणाम आएंगे। साथ ही हम सभी कोरोना योद्धाओं का मनोबल बढ़ाने का भी काम करेंगे।

मुन्ना लाल कसेरा - कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से लड़ने का साहस सभी धर्म के लोगों ने दिखाया है, जो काफी सराहनीय है। कोरोना की वजह से अपनी जान गंवा चुके लोगों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित कर ही उनके दुखों को बांटा जा सकता है। दैनिक जागरण द्वारा 14 जून को आयोजित श्रद्धांजलि सभा एक सराहनीय पहल है। तय समय पर हम उपस्थित होकर दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करेंगे।

धीरेंद्र कुमार तिवारी, करगहर रोहतास - वैश्विक महामारी कोरोना ने बहुतेरे को हमसे अलग किया है। यह एक ऐसी विपदा है, जिसमें हम अपना होने के बाद भी मृतक के परिवार को ढ़ांढस नहीं बंधा सके हैं, जो बड़ी दुख की बात है। मृत आत्माओं की शांति को ले आयोजित होने वाली श्रद्धांजलि सभा एक अनुकरणीय पहल है।

डॉ. एसपी वर्मा, प्रशासक, संत पॉल स्कूल - कोविड-19 संक्रमण से जूझ रहे लोगों की जिदंगी बचाने का प्रयास चिकित्सकों ने भरपूर किया। परंतु महामारी के आगे प्रयास भी पूरी तरह से सफल नहीं रहे। कई ने हमेशा के लिए अपनों से विदा ले लिया। उनके जाने से घर में जो स्थान रिक्त हुआ है, उसकी भरपाई भविष्य में नहीं होगी, लेकिन श्रद्धांजलि अर्पित कर उनकी आत्मा की शांति की कामना की जा सकती है।

रोहित वर्मा, अध्यक्ष, लायंस क्लब - कोरोना के चनलते अपनी जान गंवा चुके लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करना ही उनके प्रति सच्चा स्नेह व प्रेम होगा। हम चाह कर भी दुख की इस घड़ी में मृतकों के स्वजनों के साथ खड़े नहीं हो पाए। बावजूद जो आज हमसे बिछड़ गए हैं, उनके प्रति आज भी स्नेह है। उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करना हमारा दायित्व है।

ओम चौरसिया - कोरोना महामारी ने हमें जो जख्म दिया है, उसे कभी नहीं भरा जा सकता है। हमसे हमारे कई साथी जुदा हुए तो कई बच्चे भी अनाथ हुए। घर की खुशियां पलभर में छीन गई है। हर किसी को अपनों के बिछड़ने का गम है। महामारी की भयावहता की वजह से हम न तो श्रद्धांजलि अर्पित कर पाए न विपदा की इस घड़ी में परिवार के साथ खड़े हुए।

ई. संजय त्रिपाठी, प्रज्ञा निकेतन पब्लिक स्कूल - कोरोना काल के दौरान असमय अपनों को छोड़ स्वर्ग लोक को गए मृत आत्मा की शांति के लिए दैनिक जागरण की श्रद्धांजलि सभा अनुकरणीय पहल है। मां शीला होटल पर 14 जून को 11 बजे दिन में पहुंच श्रद्धांजलि सभा में सभी भाग लें।

नीतू सिंह, जिला पार्षद, अकोढ़ी गोला

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.