जांच में वसूली की बात निकली सच, जवान पर होगी कार्रवाई

जांच में वसूली की बात निकली सच, जवान पर होगी कार्रवाई

केहाट थाना के मोटरसाइकिल पुलिस जावन द्वारा चावल व्यापारी से वसूली का मामला प्रथम²ष्टया सच साबित हुआ है।

JagranMon, 19 Apr 2021 08:22 PM (IST)

पूर्णिया। केहाट थाना के मोटरसाइकिल पुलिस जावन द्वारा चावल व्यापारी से वसूली का मामला प्रथम²ष्टया सच साबित हुआ है। वसूली में शामिल मोटरसाइकिल पुलिस जवान विनय कुमार पर कार्रवाई होगी। चावल व्यवसायी से वसूली मामले की जानकारी एसपी दया शंकर को मिलने पर उन्होंने केहाट थानाध्यक्ष को मामले की सत्यता की जांच का निर्देश दिया है। एसपी के निर्देश पर केहाट थानाध्यक्ष सुनील कुमार मंडल ने जांच में पाया कि मोटरसाइकिल पुलिस जवान ने वसूली की नियत से पुलिस जवान ने चावल व्यापारी को फोन किया था। इससे पुलिस विभाग की बदनामी हो रही है। थानाध्यक्ष ने बताया कि एसपी के निर्देश पर मौखिक रूप वसूली कार्य में मोटरसाइकिल पुलिस की संलिप्तता होनी की जानकारी दे दी गई है। बताया कि फिलहाल एक ही मोटरसाइकिल जवान द्वारा लापरवाही की बात सामने आई है, उस पर कार्रवाई की जाएगी।

पीड़ित चावल व्यवसायी कसबा के सदबैली निवासी मो एनामुल हक ने एसपी को आवेदन देकर इसकी शिकायत सोमवार को की थी। आवेदन में उसने कहा कि गांधीनगर से आगे कोरठबाड़ी चौक पर मोटर साइकिल से चावल बेचने के दौरान उसे एक मोटरसाइकिल पुलिस जवान ने रोका और गलत कार्य करने की बात कहकर थाना चलने को कहा। लेकिन उसने गलत नहीं करने और गुलाबबाग से चावल लेकर आने और घूम-घूमकर बेचने की बात कही। इस पर वह केस करने की बात कहते हुए उसे थाना चलने की बात कहकर फोन कर दूसरे मोटरसाइकिल से दो पुलिस जवान को बुला लिया और उसे रंगभूमि मैदान लेकर चला गया। वहां पांच हजार रुपये का मांग किया अन्यथा केस में फंसाने की बात कहने लगा। उसने देने में असमर्थता जताया तो पास रहे पांच सौ रुपया ले लिया और दूसरे दिन आकर दो हजार रुपया और देने को कहा। इस दौरान पुलिस जवान उसका मोबाइल नंबर ले लिया और दूसरे दिन फोन कर उससे रुपये देने के लिए परेशान करने लगा। एसपी को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग करते हुए उसने कहा कि वह उस पुलिस जवान को पहचान लेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.