सावधान! एटीएम से कैस के साथ आ सकता है कोरोना

पूर्णिया। कैस निकालने अगर आप एटीएम जा रहे हैं तो सावधान हो जाएं अन्यथा कैस के साथ कोरोन

JagranMon, 10 May 2021 07:37 PM (IST)
सावधान! एटीएम से कैस के साथ आ सकता है कोरोना

पूर्णिया। कैस निकालने अगर आप एटीएम जा रहे हैं तो सावधान हो जाएं, अन्यथा कैस के साथ कोरोना भी आपके साथ आ सकती है। एटीएम यूज करने जा रहे हैं तो सैनिटाइजर, ग्लब्स आदि की व्यवस्था स्वयं कर लें क्योंकि कोरोना से बचाव के लिए बैंकों में प्रबंधन की ओर से व्यवस्था नहीं है। हां एटीएम के प्रवेश द्वार पर सावधानी बरते जाने की सूचना जरूर चिपका दी गई है। इस संबंध में अग्रणी बैंक प्रबंधक रवि सिंहा ने बताया कि एटीएम में नोटिस बोर्ड लगाया गया है जिसमें लोगों को सुरक्षा को लेकर निर्देश दिए गए हैं। साथ ही गार्ड को भी निर्देश दिए गए हैं कि लोगों को एटीएम प्रयोग से पहले और बाद में सेनेटाइजर का प्रयोग अवश्य करने कहें। बैंक शाखाओं को किया गया है सैनिटाइज पर एटीएम नहीं

-------

जिले में प्रतिदिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। सरकारी कार्यालय भी इससे अछूते नहीं है। जिले के कई बैंक अधिकारी एवं कर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके है। जिसे ध्यान में रखते हुए भारतीय स्टेट बैंक सहित अन्य बैंक की कई शाखाओं को सेनिटाइज कराया गया है। लेकिन जिले के विभिन्न शाखाओं के एटीएम को उनके बैंक प्रबंधन ने ईश्वर के भरोसे छोड़ दिया है। संक्रमण बढ़ने के बाद भी उन्हें सेनेटाइज नहीं कराया जाता है। जबकि एटीएम की-बार्ड कोरोना संक्रमण की वाहक है। जानकार बताते हैं कि एटीएम के उपयोग करने पर ग्राहकों से सर्विस चार्ज भी लिया जाता है। बावजूद इस संक्रमण काल में बैंक लोगों की सुरक्षा के प्रति लापरवाह है तथा सिर्फ नोटिस चिपकाकर अपने कर्तव्य को पूरा कर लिया है।

जिले में 26 बैंकों की 100 से अधिक शाखाएं हैं ---

जिले में 26 बैंकों की शाखाएं हैं। इनमें एसबीआई, यूबीजीबी, सेंट्रल बैंक, केनरा बैंक, बैंक बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया, यूको बैंक, यूनाइटेड बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, इलाहाबाद बैंक, देना बैंक, एडीएफसी बैंक, आइसीआइसी, एक्सिस, कारपोरेशन बैंक, आइडीबीआई, इंडियन ओवरसीज बैंक, ओरिएंटल बैंक, पंजाब एंड सिध बैंक, यूनियन बैंक, इंडियन बैंक, बंधन बैंक, आंध्रा बेंक, सिडिकेट बैंक एवं विजया बैंक शामिल हैं। हालांकि उनमें से काफी बैंकों का विलय हुआ है लेकिन ब्रांच की संख्या कम नहीं हुई है। उन बैंकों के जिले भर में करीब 100 से अधिक शाखाएं हैं जिनमें सबसे अधिक एसबीआई की 55 शाखाएं हैं लेकिन सभी की व्यवस्था इस कोरोना काल में राम भरोसे है।

ग्राहकों को सता रहा संक्रमित होने का डर ऐसी अवस्था में नकद की निकासी करने के लिए एटीएम सेंटर में ग्राहकों को कोरोना संक्रमित होने काफी डर सता रहा है। एटीएम मशीन में कार्ड डालने और उसके की पैड को कई लोग प्रतिदिन पासवर्ड डालने और स्क्रीन टच के लिए अंगुलियों का इस्तेमाल कर रहे हैं। जिससे लोगों के बीच संक्रमित होने का खतरा बना रहता है। इसलिए ग्राहक एटीएम का इस्तेमाल करते समय सावधानी स्वयं बरतें। एटीएम के पास सोशल डिस्टेंस का अनुपालन करते हुए कतार लगाकर खड़ा हो। अपने चेहरे पर मास्क का उपयोग जरूर करें, हो सके तो एटीएम का इस्तेमाल करने के वक्त अपने हाथ को खुद सेनिटाइज करें।

बैंकों के टाइम में किया गया है बदलाव गौरतलब हो कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बैंक की दिनचर्या में भी बदलाव किया गया है। अब जिले के ब्रांच सुबह 10 से शाम 5 बाजे के बजाय सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक ही ग्राहकों को सेवा दे रहे हैं। बैंकों में कर्मचारी एवं अधिकारी अल्टरनेट अपनी सेवा दे रहे हैं। इधर लगन समारोह होने की वजह से ग्राहक ज्यादातर पैसे की निकासी एटीएम के जरिए ही कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में एटीएम को सेनेटाइज नहीं करने से कोरोना संक्रमण का चैन बढ़ने की आशंका लोगों को सता रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.