top menutop menutop menu

इग्नू में 16 अगस्त तक होगा नामांकन एवं पुन: पंजीकरण

इग्नू में 16 अगस्त तक होगा नामांकन एवं पुन: पंजीकरण
Publish Date:Tue, 04 Aug 2020 05:16 PM (IST) Author: Jagran

पूर्णिया । कोविड-19 के कारण छात्र-छात्राओं के समक्ष उत्पन्न समस्याओं के मद्देनजर इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) ने जुलाई, 2020 सत्र में ऑनलाइन नामांकन एवं पुन: पंजीकरण के लिए आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 16 अगस्त तक विस्तारित कर दिया है।

इग्नू के क्षेत्रीय केंद्र, सहरसा के क्षेत्रीय निदेशक डा. मिर्जा नेहाल ए.बेग ने बताया कि नामांकन के इच्छुक छात्र-छात्राएं दो वर्षीय स्नातकोत्तर, त्रिवर्षीय स्नातक, एक वर्षीय स्नातकोत्तर डिप्लोमा (पीजी डिप्लोमा), डिप्लोमा एवं छह माह के प्रमाणपत्र पाठ्यक्रमों में ऑनलाइन नामांकन ले सकते हैं। क्षेत्रीय केंद्र सहरसा के अंतर्गत आठ जिला सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, अररिया, किशनगंज एवं खगड़िया में अवस्थित 20 अध्ययन केन्द्रों पर विभिन्न पाठ्यक्रमों में अपनी सुविधा एवं उक्त अध्ययन केंद्र पर उनके चयनित कार्यक्रम की उपलब्धता के आधार पर नामांकन के लिए अपने अध्ययन केंद्र का चयन कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन-जाति (एससी-एसटी) के छात्र-छात्राओं को पूर्व की भांति नामांकन एवं पुन: पंजीकरण में नि:शुल्कता की सुविधा प्राप्त होगी। बेरोजगार आवेदकों को नि:शुल्कता में प्राथमिकता दी जाएगी। सेवारत कर्मियों को यह लाभ नहीं मिलेगा। इसके साथ ही किसी भी संस्थान से किसी प्रकार की छात्रवृति अथवा वित्तीय सहायता वे प्राप्त नहीं कर रहे हैं एवं वे नि:शुल्कता प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस आशय का प्रमाण पत्र ऑनलाइन ही समर्पित करना होगा। उपरोक्त सभी शर्तों के पूरा होने पर वे बिना किसी शुल्क-भुगतान के ऑनलाइन नामांकन एवं पुन: पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं।

क्षेत्रीय निदेशक ने बताया कि पूर्णिया जिलान्तर्गत एक नया अध्ययन केंद्र एमएलआर्य कालेज, कसबा गत वर्ष से ही काम कर रहा है। इस केंद्र पर तत्काल स्नातक कला (बीएजी), ग्रामीण विकास में एक वर्षीय स्नातकोत्तर डिप्लोमा (पीजीडीआरडी), उर्दू में एक वर्षीय डिप्लोमा, भोजन एवं पोषण (सीएफएन) एवं सीटीई में छह माह का प्रणाणपत्र पाठ्यक्रमों को आरंभ किया गया है। नामांकन के इच्छुक छात्र-छात्राएं इस केंद्र पर नामांकन करा सकते हैं।

सदर अस्पताल सुपौल, सदर अस्पताल, खगड़िया एवं सदर अस्पताल, पूर्णिया में भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय एवं इग्नू के संयुक्त तत्वावधान में भी अध्ययन केंद्र संचालित हो रहे हैं। जहां छह माह का सामुदायिक स्वास्थ्य में प्रणाणपत्र पाठ्यक्रम सफलतापूर्वक संचालित हो रहा है ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.