बिहार के शेखपुरा में दबंगई की हद; मंच पर चढ़कर नर्तक को नग्‍न करने की कोशिश, फिर हो गया बवाल

Bihar Crime बि‍हार के शेखपुरा जिले में गणेश पूजा के अवसर पर चल रहे नाच के दौरान दबंगों ने मंच पर चढ़कर नर्तक को नग्‍न करने की कोशिश की। इसके बाद विवाद हो गया। विरोध करने पर दबंगों ने आयोजकों की पिटाई कर दी।

Vyas ChandraThu, 16 Sep 2021 11:30 AM (IST)
एसपी से गुहार लगाने पहुंचे गांव के लोग। जागरण

शेखपुरा, जागरण संवाददाता। बिहार के शेखपुरा के कुसुंभा ओपी स्थित बांकरपुर बांक गांव में नृत्‍य के कार्यक्रम के दौरान कुछ दबंग उपद्रवियों ने जमकर उत्‍पात मचाया। इस दौरान मारपीट भी की गई। विवाद गणेश पूजा के दौरान पुरुष नर्तक के नाच के दौरान हुआ। पहले तो नर्तक के साथ बदसलूकी की, इसके बाद आयोजकों के साथ मारपीट और दुर्व्‍यवहार किया गया। पंचायत के दौरान भी उनलोगों ने ज्‍यादती की। ऐसा आरोप गांंव के लोगों ने लगाया है। ग्रामीण पार्वती देवी ने बताया गांव की मुसहरी में वर्षों से महादलित समाज के लोग गणेश पूजा करते हैं। इस साल 10 सितंबर को हुई पूजा को लेकर 13 सितंबर को नाच का आयोजन किया गया था। नाच के दौरान गांव के दबंग ने मंच पर चढ़कर नर्तक की पैंट खींच दी। इससे उसके कपड़े खुल गए और वह अपमानित महसूस करने लगा। इसके बाद कार्यक्रम में हंगामा हो गया।

उल्टा पैर पकड़कर पंचायत में माफी मंगवाई

आयोजकों ने जब इसका विरोध किया तब उल्टे आयोजकों लालबासा मांझी और सुबिद मांझी के साथ जमकर मारपीट की गई। पंचायत में भी उनलोगों ने बदसलूकी का आरोप लगाया है। बताया गया कि 13 सितंबर को हुई इस घटना के बाद 14 को दबंग ने ही गांव में पंचायत बैठाई। वहां सबके सामने दोनों घायलों से माफी मंगवाई। पार्वती देवी ने बताया नर्तक की पैंट खींचने और आयोजक के साथ मारपीट करने वाले का पैर पकड़कर पंचायत में माफी मंगवाई गई। इसके बाद भी दबंग मुसहरी टोले के पुरुषों और महिलाओं के साथ गाली-गलौज कर रहे हैं। खेत में काम करने जाने के दौरान रास्ता में रोककर गाली-गलौज करते हैं। ग्रामीणों ने बताया इसकी शिकायत पहले कुसुंभा ओपी में की गई, मगर कोई कदम नहीं उठाने पर एसपी से सामूहिक फरियाद किए हैं। उन्‍हें एसपी से न्‍याय मिलने की उम्‍मीद है। घटना के बाद से गांव के लोग डरे-सहमे हैं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.