भोजपुर में मां और बेटे सहित तीन लोगों की मौत, बेलगाम सफारी ने बाइक सवार परिवार को रौंदा

Road Accident in Bhojpur भोजपुर जिले के चरपोखरी थाना क्षेत्र आरा-सासाराम मुख्य मार्ग पर सियाडीह-बड़हरा गांव के बीच रविवार की शाम अनियंत्रित सफारी गाड़ी ने बाइक सवार तीन लोगों को रौंद दिया। हादसे में बाइक पर सवार मां और बेटे सहित तीनों की मौत हो गई।

Shubh Narayan PathakSun, 20 Jun 2021 08:51 PM (IST)
भोजपुर जिले में भीषण हादसे के बाद जुटी भीड़। जागरण

आरा, जागरण टीम। Road Accident in Bhojpur:  भोजपुर जिले के चरपोखरी थाना क्षेत्र आरा-सासाराम मुख्य मार्ग पर सियाडीह-बड़हरा गांव के बीच रविवार की शाम अनियंत्रित सफारी गाड़ी ने बाइक सवार तीन लोगों को रौंद दिया। हादसे में बाइक पर सवार मां और बेटे सहित तीनों की मौत हो गई। हादसा रविवार शाम छह बजे हुआ। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बाइक के परखच्चे उड़ गए और उछल कर सड़क किनारे खाई में जा गिरी। सफारी गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे के बाद भीड़ के कारण परिचालन अवरुद्ध रहा। मृतकों में आयर थाना के भेड़री गांव निवासी टेंगरी राम की 40 वर्षीय पत्नी आशा देवी, उसका 22 वर्षीय पुत्र विकेश कुमार और पीरो के पकवा टोला निवासी कमलेश राम का 14 वर्षीय पुत्र सोनू कुमार शामिल है। रिश्ते में मृतक विकेश का फुफेरा भाई लगता था।

भाई के बेटी की शादी में भाग लेने बेटे संग गई थी आशा

बताया जाता है कि आयर थाना के भेड़री गांव निवासी टेंगरी राम की पत्नी आशा देवी अपने पुत्र विकेश कुमार के साथ अपने भाई की पुत्री के शादी समारोह में भाग लेने पीरो के बहरी महादेव गई हुई थी। शादी में भाग लेने के बाद बाइक से वापस अपने गांव जा रही थी। साथ में सोनू नामक बालक भी था। इसी दौरान सियाडीह गांव के समीप तेज रफ्तार में जा रही सफारी गाड़ी से आमने-सामने की जबरदस्त टक्कर हो गई। जिसमें बाइक सवार तीनों लोग अलग-अलग दूर जा गिरे। आनन-फानन में तीनों जख्मी को सामुदायिक स्वास्थ्य चरपोखरी लाया गया। जहां चिकित्सकों ने मां -बेटे आशा देवी और विकेश कुमार को मृत घोषित कर दिया। सोनू कुमार को बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया। लेकिन सदर अस्पताल ले जाने के दौरान जख्मी बालक सोनू ने भी दम तोड़ दिया।

सफारी को छोड़कर भाग निकले सभी सवार

हादसे के बाद घटनास्‍थल पर भीड़ जमा होने से वाहनों की लंबी कतार लग गई। सूचना के बाद पहुंचे स्थानीय पुलिस प्रशासन ने भीड़ को खाली कराकर आवागमन बहाल कराया। पुलिस ने उजले रंग के सफारी गाड़ी को अपने कब्जे में ले लिया। हालांकि गाड़ी में सवार सभी लोग घटना के बाद वहां से फरार हो गए। सूत्रों के अनुसार भेड़री निवासी आशा देवी अपने दो पुत्री और एक पुत्र व अपने भाई के लड़के के साथ दो अलग-अलग बाइक से बहरी महादेव मंदिर में आयोजित शादी में भाग लेने गई थी। अलग-अलग बाइक से लौट रहे थे। मृतक विकेश कुमार तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर था। उसकी तीन बहन है, जिसमें दो की शादी हो चुकी है। मृत सोनू कुमार तीन भाइयों में सबसे बड़ा था।

घायल युवक के सिर से बहता रहा खून, नहीं हुई मरहम पट्टी

चरपोखरी पीएचसी अस्पताल में ड्रेसर नहीं होने के कारण इलाज के लिए आए जख्मी युवक विकेश के सिर से लगातार खून बहता रहा। लेकिन, मरहम पट्टी के लिए कोई कर्मी मौजूद नहीं दिखा। जख्मी के सिर से बहता खून देख परिजन तड़पते दिखे। हालांकि युवक की कुछ देर बाद मौत हो गई। इसको लेकर स्थानीय लोगों में  अस्पताल प्रबंधन के लचर व्यवस्था के करण आक्रोश देखा गया। ड्रेसर नहीं होने से आए दिन परेशानी हो रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.