टैंकर में फंस 50 मीटर घिसटी कार, तीन किशोरों की हुई मौत, दो घायल

फुलवारीशरीफ के मौर्य विहार स्थित खगौल-नौबतपुर रोड पर हुई घटना में तीन लोगों की मौत हो गई।

JagranSat, 12 Jun 2021 01:15 AM (IST)
टैंकर में फंस 50 मीटर घिसटी कार, तीन किशोरों की हुई मौत, दो घायल

- फुलवारीशरीफ के मौर्य विहार स्थित खगौल-नौबतपुर रोड की घटना

- मृतकों में तीन एफसीआइ रोड के रहने वाले

- शोएब की कार पर सवार सभी छात्र घर से निकले थे घूमने

- स्पीड ब्रेकर बनाने की मांग को लेकर खगौल-नौबतपुर सड़क आधे घंटे तक की गई जाम

------------

संसू, फुलवारीशरीफ : खगौल-नौबतपुर सड़क पर फुलवारीशरीफ की मौर्य विहार कॉलोनी के समीप सड़क दुर्घटना में तीन किशोरों की मौत हो गई और पांच घायल हो गए। मृतकों की पहचान एफसीआइ रोड निवासी शफीकुर्रहमान के पुत्र मो. शोएब (16 वर्ष), छेदीटोला निवासी लाल रतन के पुत्र प्रतीक रतन उर्फ प्रिस (17 वर्ष), गोपाल प्रसाद के पुत्र रोहित कुमार (16 वर्ष) के रूप में हुई है। वहीं हर्ष और बेउर निवासी आयांश घायल हैं। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने सभी को एम्स के समीप निजी अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं टैंकर लेकर चालक फरार हो गया।

जानकारी के अनुसार आल्टो कार पर सवार सभी दोस्त शुक्रवार की शाम एक जगह जमा हुए। शोएब घर से आल्टो कार लेकर पहुंचा। सभी दोस्त कार में सवार हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कार काफी तेज रफ्तार से एलिवेटेड रोड से नौबतपुर रोड में गलत दिशा से घुसी। इसी दौरान फुलवारीशरीफ से एक सीएनजी टैंकर नौबतपुर की तरफ जा रहा था। कार इसकी चपेट में आ गई। टैंकर कार को लगभग 50 मीटर तक घसीटता गया और छात्र कार में ही छटपटाते रहे। थोड़ी दूर जाकर टैंकर से फंसी हुई कार निकल गई। कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। स्थानीय लोगों की मदद से कार में सवार पांच लोगों को बाहर निकालकर एम्स में भर्ती कराया, जहां तीन छात्रों ने दम तोड़ दिया। दो छात्रों की हालत चिताजनक बनी हुई है।

: थोड़ी देर बाद आने की बात कहकर घर से निकला था शोएब :

वहीं जब मौत की खबर स्वजनों को लगी तो रोते-बिलखते घटनास्थल और एम्स पटना पहुंचे। स्वजनों का कहना था कि घर से थोड़ी देर में आने को कहकर शोएब निकला था। आधे घंटे के अंदर दर्दनाक सड़क हादसे की खबर मिली। अस्पताल में हर तरफ चीख-पुकार मची हुई थी। सभी पांच छात्रों के स्वजन अपने लाल की तलाश और उनका हालचाल जानने के लिए बेचैन थे। स्वजनों का कहना था कि सभी दोस्त 12 वीं के छात्र थे और कार शोएब के पिता शफीकुर्रहमान के नाम से है। शोएब के चाचा नजीफुर्रहमान की 9 मई को ही कोरोना से मौत हो गई थी। वहीं इस घटना के बाद मौर्यविहार कालोनी के लोगों ने स्पीड ब्रेकर बनाने की मांग को लेकर खगौल-नौबतपुर सड़क को आधे घंटे तक जाम किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.