top menutop menutop menu

अथमलगोला में बरौनी-कानपुर पाइपलाइन में ड्रिल कर तेल चोरी का प्रयास

पटना (अथमलगोला) : थाना क्षेत्र के निजामपुर के पास हासनचक गाव के किसान के खेत से गुजरने वाली तेल पाइपलाइन से अज्ञात लोगों ने तेल चुराने का प्रयास किया, मगर बहाव तेज होने के कारण बदमाश अपने इरादे में कामयाब नहीं हो पाए। मंगलवार की सुबह जब ग्रामीणों की नजर पड़ी तो तेल लूटने के लिए स्थानीय लोग भी दौड़ पड़े। इस बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को देख ग्रामीण बर्तन, डिब्बा छोड़कर भाग निकले, जबकि पुलिस ने वहा से 600 लीटर से ज्यादा तेल व बर्तन समेत अन्य सामान बरामद किया है।

बरौनी कानपुर पाइपलाइन के डीजीआर गॉर्ड जगदीश राय ने पूरे घटनाक्रम से इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के बरौनी कार्यालय को अवगत कराया। इसके बाद आइओसी के कर्मी दस्ते व संयंत्र के साथ घटनास्थल पर पहुंचे व मामले की जानकारी ली। इस दौरान अग्निशमन दस्ते की मौजूदगी में दिनभर मरम्मत कार्य चला।

इस संबंध में प्रबंधक दिलीप कुमार दिवाकर ने थाने में तेल चोरी के प्रयास की लिखित शिकायत दर्ज कराई है। इसमें जिक्र है कि हासनचक निवासी शरण सिंह की खेत में करीब ढाई फीट गड्ढा खोदकर पाइप से तेल चोरी का प्रयास किया गया, मगर चोर अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाए व उजाला होने से पहले भाग निकले। इस संबंध में आइओसी कर्मियों ने बताया कि जल्द ही क्षति का आकलन किया जाएगा। थानाध्यक्ष उत्तम कुमार ने बताया कि अपराधियों की धर-पकड़ तेज कर दी गई है। घटना के पीछे संगठित गिरोह का हाथ होने की संभावना है।

: ठीक एक वर्ष पूर्व घटी थी इसी तरह की घटना : थाना क्षेत्र के बिजरुक गाव में बड़े पैमाने पर पाइप लाइन से तेल चोरी की घटना ने पुलिस महकमे और आइओसी को खासा परेशान कर दिया था। बाद में एक सप्ताह के प्रयास के बाद एएसपी लिपि सिंह के निर्देशन में पुलिस निरीक्षक दीवान इकराम खान ने मामले का उद्भेदन किया था। इस संबंध में 19 नवंबर 2018 को थाने में 297/18 केस दर्ज है। यह मामला तब इसलिए चर्चित हुआ था कि इसी काड का मुख्य आरोपित पुलिस हिरासत से फरार हो गया था और घटना से नाराज पुलिस के आला अधिकारियों ने एएसपी के प्रतिवेदन पर पूरे थाने के पदस्थापित कर्मी को निलंबित कर दिया था। इसके साथ ही तत्कालीन पुलिस निरीक्षक कामाख्या नारायण सिंह ने चार पुलिस वालों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.