घर से बुलाकर युवक की पीटकर हत्या, शव को सड़क पर फेंका, मोटिव की तलाश में जुटी सारण पुलिस

बिहार के सारण में घर से बुलाकर युवक की पीटकर हत्या कर दी गई है। हत्या के बाद अपराधियों ने शव को सड़क पर फेंक दिया और फरार हो गए। इस घटना से गुस्साए लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Rahul KumarPublish:Sun, 28 Nov 2021 05:11 PM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 05:11 PM (IST)
घर से बुलाकर युवक की पीटकर हत्या, शव को सड़क पर फेंका, मोटिव की तलाश में जुटी सारण पुलिस
घर से बुलाकर युवक की पीटकर हत्या, शव को सड़क पर फेंका, मोटिव की तलाश में जुटी सारण पुलिस

नयागांव(सारण) संवाद सूत्र।  जिले के नयागांव थाना क्षेत्र अंतर्गत डुमरी बुजुर्ग गांव के पास शनिवार की रात में  छपरा-पटना मुख्यमार्ग पर 28 वर्षीय एक युवक की हत्या पीटकर कर दी गई। हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद बदमाशों ने शव को सड़क किनारे फेंक दिया। कालरात्रि मंदिर जाने वाले रास्ते के गेट से बीस गज की दूरी पर रविवार की अलसुबह डुमरी गोला निवासी युवक का शव पड़ा देखकर ग्रामीणों के होश उड़ गए। इसके बाद लोगों ने पुलिस को सूचित किया। आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर जमकर हंगामा किया। 

घर से बुलाकर की हत्या

मिली जानकारी के अनुसार डुमरी गोला निवासी स्वर्गीय ओमप्रकाश तिवारी का 28 वर्षीय पुत्र अंकित तिवारी शनिवार की संध्या सात बजे दूध सेंटर से दूध लेकर अपने घर गया। इसी बीच किसी ने अंकित को फोन कर बुलाया तो उसने अपनी वृद्ध मां से कहा कि मम्मी चाय बनाकर रखो हम थोड़ी देर में आ रहे हैं। इसके बाद काफी रात हो जाने के बाद भी जब अंकित घर नही लौटा तो परिजन किसी अनहोनी की आशंका से चिंतित होने लगे। इसी बीच रात्रि दस से ग्यारह बजे के बीच कोई अंकित तिवारी की मोटर साइकिल दरवाजे पर खड़ी करके चला गया, जिसकी आवाज अंकित की मां ने सुनी थी। रविवार की सुबह ग्रामीण छपरा-हाजीपुर मुख्य सड़क पर अंकित का शव देखकर शोर मचाने लगे। ग्रामीणों ने इसकी खबर अंकित के परिजनों को दी। देखते ही देखते यह खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गई।

गुस्साए लोगों ने किया सड़क जाम

सैकड़ों महिला-पुरुष घटना स्थल पर पहुंच कर सुबह पांच बजे से नौ बजे दिन तक लगभग चार घंटे तक सड़क जाम कर दिए। इससे सड़क किनारे गाड़ियों की लंबी कतार लग गई। इसी बीच किसी ने इस घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी। सूचना पर संज्ञान लेते हुए नयागांव पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझा बुझाकर जाम को खत्म कराया।

जांच में जुटी पुलिस

अंकित के पिता की मौत पहले ही हो चुकी है। दो भाइयों में वह छोटा था। उसकी शादी नही हुई थी। घर पर वृद्ध दादा, बूढ़ी मां एवं बड़े भाई व भाभी के साथ रहता था। मृत अंकित की मां प्रभा देवी ने बताया कि दो दिन पहले अपने दादा का पेंशन का पैसा निकालकर लाया था, जो अपने पास ही रखा था। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया। जांच पड़ताल के दौरान एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए पकड़कर थाना पर पुलिस ले आयी है। थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राम ने बताया कि इस घटना की जांच हर एंगल से की जा रही है। मृत युवक के चेहरे पर जख्म है, जबकि शरीर पर व कपड़े पर मिट्टी व पानी लगा हुआ है।