AK 47 के साथ यूपी में दबोचा गया गोपालगंज का कुख्‍यात मुन्‍ना मिश्रा, पत्‍नी को भी पुलिस ने पकड़ा

हत्या लूट रंगदारी व अपहरण जैसे 18 मामलों में वांछित कुख्‍यात अपराधी मुन्‍ना मिश्रा को एसटीएफ की टीम ने यूपी से गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से AK 47 के साथ ही भारी मात्रा में कारतूस की बरामदगी हुई है।

Vyas ChandraFri, 23 Jul 2021 11:46 AM (IST)
गोपालगंज का कुख्‍यात अपराधी मुन्‍ना मिश्रा। वायरल फोटो

गोपालगंज, जागरण संवाददाता। बिहार एसटीएफ (Bihar STF) की टीम को बड़ी कामयाबी मिली है। गोपालगंज जिले के कटेया थाना क्षेत्र के पानन महुअवा गांव निवासी कुख्यात मुन्ना मिश्रा उर्फ दिलीप मिश्रा को बिहार एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया। मुन्ना मिश्रा के पास से पुलिस ने एके 47 व काफी संख्‍या में कारतूस भी बरामद किया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस उसे लेकर गोपालगंज के लिए लेकर रवाना हो गई है। मुन्ना मिश्रा पर हत्या, रंगदारी, अपहरण व लूट के 18 मामले चल रहे हैं।  गिरफ्तार कुख्यात से पूछताछ करने के बाद पुलिस उसे शुक्रवार को न्यायालय में प्रस्तुत किया। बाद में उसे चौदह दिनों के न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया।

बाइक पर बोरी बांधकर जा रहा था 

अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान एसपी आनंद कुमार ने बताया कि करीब दो माह पूर्व कटेया थाना क्षेत्र के जमुनहां बाजार में शिक्षक दिलीप सिंह की एके 47 से कुख्यात मुन्ना मिश्रा व उसके साथियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। तब से वह फरार चल रहा था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए हथुआ एसडीपीओ नरेश कुमार के नेतृत्व में हर रोज पुलिस यूपी व बिहार के विभिन्न जगहों पर छापेमारी अभियान चला रही थी। इसी बीच गुरुवार को सूचना मिली कि मुन्ना मिश्रा कटेया की तरफ से बाइक पर एक बोरी बांध कर कहीं निकल रहा है। इस सूचना के बाद यूपी पुलिस की मदद से बिहार व यूपी की सीमा को सील कर दिया गया।

यह भी पढ़ें- कभी शिक्षक तो कभी पंडित, हुलिया बदलने में माहिर था यह मुन्‍ना, जानिए गोपालगंज के इस कुख्‍यात को

पुलिस पर फायरिंग का भी किया प्रयास 

कटेया थाना क्षेत्र के पकहां गांव के समीप पुलिस टीम को देखकर भागने लगा। जिसके बाद पुलिस टीम ने पीछा कर उसे गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने बताया कि उसने पुलिस टीम पर फायरिंग करने का प्रयास किया। लेकिन छापेमारी दल में शामिल पुलिस पदाधिकारी ने उसे दबोच लिया। उसके पास से एक एके 47 व 28 कारतूस बरामद किए गए हैं।  मुन्ना मिश्रा पर बिहार सरकार ने 50 हजार का इनाम भी घोषित किया था। एसपी ने बताया कि उसकी पत्‍नी अन्नु मिश्रा को यूपी के देवरिया से गिरफ्तार कर लिया गया है। जिसे यूपी से पुलिस टीम लेकर रवाना हो चुकी है। छापेमारी में हथुआ एसडीपीओ नरेश कुमार, मीरगंज थानाध्यक्ष छोटन कुमार, एसटीएफ के सर्वेश कुमार, कटेया थानाध्यक्ष सुमन मिश्रा, कुचायकोट थानाध्यक्ष अश्वनी तिवारी, कटेया थाना के दारोगा राजेश कुमार, टेक्निकल सेल पदाधिकारी प्रेम प्रकाश कुमार व सिपाही ब्रजेश कुमार सहित कई जवान शामिल थे।

नाम और हुलिया बदलकर रहता था यूपी में 

पुलिस की ओर से बताया गया है कि मुन्‍ना मिश्रा उर्फ दिलीप मिश्रा शातिर अपराधी है। वह अपराध के बाद यूपी फरार हो जाता था। लखनउ, गोरखपुर, देवरिया आदि इलाके में वह नाम और हुलिया बदल कर रहता था। वर्ष 2012 में हुई गिरफ्तारी के बाद से वह फरार चल रहा था। वह व्‍यवस‍ायियों और ठीकेदारों से रंगदारी वसूलता था। जबरन जमीन कब्‍जा करता था। जो भी उसके खिलाफ पुलिस को सूचना देता, उसकी हत्‍या वह कर देता था। 

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.