चोरी की घटनाओं पर शिकंजा कसने को पुलिस का मास्‍टर प्‍लान, आपके मुहल्‍ले पर भी रहेगी नजर

पटना के चोरों की अब होगी शामत। जागरण

Crime in Patna चोरी की बढ़ती घटनाओं से परेशान पुलिस ने नया प्‍लान बनाया है। इसके जरिये शहर की छोटी-छोटी गलियों पर भी नजर रखी जा सकेगी। उन इलाकों पर खास फोकस किया जाएगा जहां चोरी की घटनाएं अधिक हैं।

Publish Date:Tue, 24 Nov 2020 02:41 PM (IST) Author: Shubh Npathak

पटना, जेएनएन। छठ पर्व के दौरान खाली घरों की रखवाली करने का दावा करने वाली पुलिस की चौकसी का पोल दो दिनों में खुल गया। लगातार चोरी की सूचना के बाद अब पुलिस सतर्क हो गई है। चोरों की गिरफ्तारी और वारदात रोकने के लिए पुलिस अब सेक्टर बनाकर मुहल्ले की गलियों में भी पैदल गश्त करेगी। इसके लिए शहर में पांच-पांच सेक्टर बनाए गए है। सेक्टर के मुताबिक हर रात टीम गश्त करेगी।

सभी डीएसपी और थानेदारों को एसएसपी ने दिया यह आदेश

एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने सभी डीएसपी और थानेदारों को आदेश जारी किया है। इसमें फुलवारी, बेउर, रामकृष्णानगर, कदमकुआं, पत्रकारनगर, कोतवाली, शास्त्रीनगर, राजीव नगर, सचिवालय, गांधी मैदान, एसकेपुरी, बुद्धा कॉलोनी, एयरपोर्ट, जक्कनपुर, पीरबहोर थाने में पांच-पांच सेक्टर बनाए गए हैं। हर दिन सेक्टरों में अलग अलग गश्ती दल की डयूटी लगाई जाएगी। जो गली मोहल्ले में गश्त कर मकानों की निगरानी करेंगे। इस दौरान अगर संदिग्ध मिले तो उसने पूछताछ की जाएगी। गश्ती दल कैसे काम कर रही है या सुस्त है इस पर थानेदार नजर रखेंगे। साथ ही संबंधित क्षेत्र के डीएसपी भी दौरा कर जायजा लेंगे।

ज्‍यादा चाेरी वाले इलाकों की पटना पुलिस ने बना ली है सूची

शहर में रात्रि गश्त को लेकर संबंधित थाना पुलिस कितनी मुस्तैद इसका जायजा लेने के लिए रात में संबंधित क्षेत्र के एसपी भी दौरा कर सकते है। ऐसे में अगर लापरवाही मिली तो संबंधित पुलिस पदाधिकारी से लेकर जवानों पर कार्रवाई होगी। पुलिस उन इलाकों की लिस्ट भी तैयार कर चुकी है, जहां सबसे अधिक चोरियां होती है। राजीव नगर, दीघा, पत्रकारनगर, कंकड़बाग, बेउर, शास्त्रीनगर सहित दो अन्य थाना क्षेत्रों भी क्विक मोबाइल, पेट्रोलिंग जीप से गश्त बढ़ा दी गई है। थाने की पुलिस अपने अपने क्षेत्र के अपार्टमेंट के बारे में भी पूरी जानकारी रखेगी। ऐसे अपार्टमेंट को भी चिह्नित करेंगे, जहां गार्ड या सीसी कैमरे नहीं लगे है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.