नाटकों से गुलजार होगा पटना का कालिदास रंगालय, लगातार छह दिनों तक देखने की रहेगी चहल-पहल

Patna News नाटक और रंगमंच के प्रेमियों के लिए अच्‍छी खबर है। पटना का कालिदास रंगालय महीनों बाद कई दिनों तक नाटकों से गुलजार होगा। यहां लगातार छह दिनों तक हर शाम शहर के नामचीन कलाकारों का अभिनय नाटकों में दिखेगा।

Shubh Narayan PathakTue, 23 Nov 2021 09:40 AM (IST)
पटना में शुरू होगा नाटकों के आयोजन का स‍िलसिला। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना, जागरण संवाददाता। नाटक और रंगमंच के प्रेमियों के लिए अच्‍छी खबर है। पटना का कालिदास रंगालय महीनों बाद कई दिनों तक नाटकों से गुलजार होगा। यहां हर शाम शहर के नामचीन कलाकारों का अभिनय नाटकों में दिखेगा। भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के सौजन्य से 'सूत्रधार' खगौल की ओर से 23 नवंबर से 25 नवंबर तक नाटकों का मंचन होगा। वहीं 26 से 28 नवंबर तक बिहार आर्ट थिएटर की ओर से तीन दिवसीय नाट्य-महोत्सव का आयोजन कालिदास रंगालय में होगा।

सूत्रधार संस्था के महासचिव नवाब आलम ने बताया कि 23 नवंबर से 25 नवंबर तक चलने वाला नाट्योत्सव वरिष्ठ साहित्यकार भारत यायावर एवं रंगकर्मी आरपी वर्मा तरुण को समर्पित होगा। कोविड-संक्रमण को देखते हुए प्रेक्षागृह में बिना मास्क का प्रवेश दर्शकों के लिए वर्जित होगा। नाटकों का आनंद उठाने के दौरान दर्शकों को शारीरिक दूरी का पालन करना होगा।

छह दिनों तक नाटकों से गुलजार होगा रंगालय सूत्रधार खगौल की ओर से 23 नवंबर से 25 नवंबर तक नाटकों का मंचन होगा 26 से 28 नवंबर तक बिहार आर्ट थिएटर की ओर से होगा नाट्य-महोत्सव

तिथि - 23 नवंबर: नाटक - अतीत का वातायन, निर्देशक - अभय सिन्हा, संस्था - प्रांगण, पटना

तिथि -24 नवंबर : नाटक - पागल, निर्देशक - अमन कुमार, संस्था - एकजुट, खगौल, नाटक -ढकनिया पोखर

मूल कहानी - नरेन , निर्देशक - अरुण कुमार सिंह 'पिंटू', संस्था- मंडल सांस्कृतिक संघ, पूर्व मध्य रेल, दानापुर, खगौल

तिथि -25 नवंबर : नाटक - अनाथ, लेखक - रवींद्र नाथ टैगोर, नाट्य-रूपातंरण - नूपुर चक्रवर्ती, निर्देशक - नीरज कुमार, संस्था - सूत्रधार, खगौल

तिथि -26 नवंबर : नाटक - नेफा की एक शाम , लेखक - ज्ञानदेव अग्निहोत्री , निर्देशक - अरुण कुमार सिन्हा , संस्था - बिहार आर्ट थियेटर

तिथि - 27 नवंबर : नाटक - सद्गति, लेखक - मुंशी प्रेमचंद, नाट्य-रूपांतरण - अरुण कुमार सिन्हा, निर्देशन - उज्ज्वला गांगुली, संस्था - बिस्तार, पटना

तिथि -28 नवंबर : नाटक - सारी रात, निर्देशन - राजेश राजा, संस्था - विश्वा, पटना

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.