सुशील मोदी बोले- बीजेपी छोड़कर जाने वाले सुकून में नहीं रहते, बिहार में कोई ताकत NDA सरकार को डिगा नहीं सकती

स्व सूरज नन्दन कुशवाला की जयंती समारोह का उद्घाटन करते पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी एवं सांसद रामकृपाल यादव।

सुशील मोदी ने कहा कि बिहार की एनडीए सरकार में मेरी आत्मा बसती है। मैं एलान करता हूं कि इस सरकार को कोई ताकत डिगा नहीं सकती है। कोई मध्यावधि चुनाव नहीं होगा। सरकार पांच साल चलेगी। उन्होंने कहा कि जो बीजेपी छोड़कर जाता है वो सुकून में नहीं रहता।

Publish Date:Sun, 29 Nov 2020 10:05 PM (IST) Author: Akshay Pandey

राज्य ब्यूरो, पटना। पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि बिहार की एनडीए सरकार में मेरी आत्मा बसती है। मैं एलान करता हूं कि इस सरकार को कोई ताकत डिगा नहीं सकती है। कोई मध्यावधि चुनाव नहीं होगा। सरकार पांच साल चलेगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी एकतरफा यातायात की तरह है, आप यहां आ सकते हैं लेकिन यहां से नहीं जा सकते। जो बीजेपी छोड़कर जाता है वो सुकून में नहीं रहता। मोदी ने रविवार को भाजपा के पूर्व प्रदेश महामंत्री व राष्ट्रवादी कुशवाहा परिषद के अध्यक्ष सूरज नंदन कुशवाहा की 63वीं जयंती समारोह में बोल रहे थे।

वर्तमान सरकार के अंदर बसती है मेरी आत्मा

सुशील मोदी ने कहा कि मैं बिहार सरकार का हिस्सा तो नहीं हूं लेकिन मेरी आत्मा वर्तमान सरकार के अंदर बसती है। हमें अपनी पार्टी को कभी भी कमजोर नहीं होने देना चाहिए। एनएन सिन्हा सामाजिक अध्ययन संस्थान सभागार में कुशवाहा को याद करते हुए कहा कि मेरे विधायक बनने में सूरजनंदन कुशवाहा की अहम भूमिका रही थी। सम्राट अशोक की जयंती मनाने का काम सबसे पहले सूरज नंदन कुशवाहा ने शुरू किया था। आगे चलकर सभी पार्टियों में सम्राट अशोक की जयंती मनाने की होड़ मच गई।

हार से हताश विपक्ष बौखला गया है

1990 से 2004 के बीच बिहार में लोकसभा, विधानसभा और पंचायत के नौ चुनाव हुए। इन चुनावों में 641 लोग मारे गए थे। सुशील मोदी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि हार से हताश विपक्ष बौखला गया है। कभी ईवीएम पर आरोप लगाते हैं तो कभी पोस्टल बैलेट की गिनती पर। सत्ता पक्ष और विपक्ष की सीटों का उदाहरण देते हुए कहा कि रामगढ़ सीट पर राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदाबाबू के बेटे ने 189 वोटों से जीत दर्ज की, तो क्या बेईमानी हुई?

राजनेता ही नहीं बल्कि एक कुशल संगठनकर्ता थे कुशवाहा

उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि कुशवाहा एक राजनेता ही नहीं बल्कि एक कुशल संगठनकर्ता भी थे। भाजपा प्रदेश मुख्यालय मैं जब भी आता और मुलाकात होती तो वह मुझे नाम से नहीं बल्कि मित्र के संबोधन से मुझे बुलाया करते थे। कार्यक्रम को रेणु देवी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, सांसद राम कृपाल यादव, पूर्व मंत्री प्रेम कुमार और सम्राट चौधरी ने कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुशवाहा की पत्नी हेमलता कुशवाहा ने और मंच संचालन प्रहलाद कुशवाहा ने किया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.