बिहार में कोरोना के बावजूद शेयर बाजार में हर दिन 400 करोड़ की ट्रेडिंग, 40% बढ़े निवेशक

कोरोना की दूसरी लहर में लॉकडाउन के कारण आर्थिक जगत में उथल-पुथल से शेयर बाजार को कम झटका लगा है राहत की बात यह कि उल्लेखनीय गिरावट का माहौल नहीं बन पाया है। बिहार में अभी प्रतिदिन लगभग 400 करोड़ रुपये की ट्रेडिंग हो रही है।

Akshay PandeyTue, 11 May 2021 12:13 PM (IST)
कोरोना की दूसरी लहर में निवेशकों की उम्मीद बढ़ गई है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

दिलीप ओझा, पटना। कोरोना की दूसरी लहर में लॉकडाउन के कारण आर्थिक जगत में उथल-पुथल से शेयर बाजार को कम झटका लगा है, राहत की बात यह कि उल्लेखनीय गिरावट का माहौल नहीं बन पाया है। इस वजह से बिहार में अभी प्रतिदिन लगभग 400 करोड़ रुपये की ट्रेडिंग हो रही है। निवेशकों को नुकसान की स्थिति का सामना नहीं करना पड़ रहा है। पुराने निवेशक दिलचस्पी के साथ जमे हुए हैं। नए निवेशक भी जुड़ रहे हैं। 

कोरोना काल में निवेशकों की उम्मीद शेयर बाजार से बनी हुई है। पिछले साल के कोरोना काल में आई भारी गिरावट जैसी स्थिति इस बार नहीं है। शेयर बाजार के जानकार सतीश चंद्र पहाड़ी ने कहा कि अब अधिकांश जगहों पर ऑनलाइन कारोबार होने लगा है। उद्योगों को बंद नहीं किया गया है। वस्तुओं की बिक्री भी ई- कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर हो रही है। सीमित दायरे में भीड़ को नियंत्रित करने जैसे कदम उठाए गए हैं, जिसका व्यापार पर बुरा असर नहीं है। इन वजहों से शेयर बाजार में गिरावट का माहौल नहीं बन पाया है, जिससे निवेशकों की उम्मीद बनी हुई है। ट्रेडिंग में आंशिक रूप से वृद्धि ही हुई है। डिजिटल कारोबार चलते रहने से बाजार को नुकसान नहीं उठाना पड़ रहा है। बीएसई का सेंसेक्स 50 हजार के आसपास बना हुआ है। उतार- चढ़ाव सीमित दायरे में देखने को मिल रहा है। इससे निवेशकों को सामान्य नफा-नुकसान नुकसान हो रहा है जो पहले भी होता था। 

 

पुराने निवेशकों की दिलचस्पी बाजार में बनी

शेयर बाजार के जानकार अंजनी कुमार सुरेका ने कहा कि पुराने निवेशकों की दिलचस्पी बाजार में बनी हुई है, नए निवेशक भी आ रहे हैं। हालांकि, पिछले साल के लाकडाउन में जिस रफ्तार से शेयर बाजार में नए निवेशक जुड़े थे, इस बार उससे नए निवेशकों की संख्या कुछ कम है। फिर भी पिछले साल की तुलना में 30 से 40 फीसद नए निवेशक बढ़े हैं।

 
बाजार गिरने पर कर रहे निवेश 


मगध स्टाक एक्सचेंज के पूर्व प्रबंधक अभय कुमार ने कहा कि निवेशक सतर्क हैं। बाजार गिरने पर निवेश कर रहे हैं, और बढ़त दिखाई देने पर मुनाफावसूली भी कर रहे हैं। इसलिए नुकसान में नहीं है। इसी राह पर चलने की जरूरत है। फिलहाल इंट्रा डे ट्रेङ्क्षडग से बचना चाहिए। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.