Bihar STET Result 2021: एसटीईटी के उर्दू, विज्ञान एवं संस्कृत विषय के परिणाम जारी, यहां देखें रिजल्ट

Bihar STET Result 2021 बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) 2019 के पेपर-1 के उर्दू संस्कृत एवं विज्ञान विषय का रिजल्ट घोषित कर दिए हैं। इसके साथ ही पेपर -1 एवं 2 के सभी 15 विषयों की रिक्तियों के अनुसार मेधा सूची भी जारी की गई।

Akshay PandeyMon, 21 Jun 2021 10:22 PM (IST)
बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने सोमवार को माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) 2019 का परिणाम जारी कर दिया गया है।

जागरण संवाददाता, पटना। Bihar STET Result 2021 बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने सोमवार को माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) 2019 के पेपर-1 के उर्दू, संस्कृत एवं विज्ञान विषय का रिजल्ट घोषित कर दिया। इसके साथ ही पेपर -1 एवं 2 के सभी 15 विषयों की रिक्तियों के अनुसार मेधा सूची भी जारी कर दी गई। रिजल्ट शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने जारी किया। इस अवसर पर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार एवं बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर मौजूद थे। परीक्षार्थी अपना यूजर आइडी एवं पासवर्ड का उपयोग कर वेबसाइट www.bsebstet2019.in पर रिजल्ट या मेधासूची देख सकते हैं। अभ्यर्थी biharboardonline.bihar.gov.in पर भी जा सकते हैं। 

 उर्दू के कुल 832 मेधा सूची में

इस अवसर पर बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि कुछ तकनीकी कारणों से तीन विषयों का रिजल्ट पिछले 12 मार्च 2021 को जारी नहीं किया जा सका था। इनका रिजल्ट सोमवार को घोषित किया गया। बोर्ड द्वारा उर्दू के कुल 832, संस्कृत के 862 एवं विज्ञान के 4383 विद्यार्थियों को मेधा सूची में स्थान दिया गया है। इस विद्यार्थियों का मेधा क्रम भी जारी किया गया है।

9 सितंबर, 2020 से 21 सितंबर 2020 तक हुई थी परीक्षा

एसटीईटी 2019 की परीक्षा का आयोजन 9 सितंबर, 2020 से 21 सितंबर 2020 तक आनलाइन किया गया था। मालूम हो कि पटना हाईकोर्ट के आदेश पर उर्दू, संस्कृत एवं विज्ञान विषय के 106 परीक्षार्थियों की दोबारा परीक्षा आयोजित की गई थी। बोर्ड का कहना है कि पेपर वन की मेधा सूची में स्थान प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी राज्य के माध्यमिक विद्यालयों में कक्षा नौ एवं दस में पढ़ाने के पात्र होंगे। वहीं पेपर टू की मेधा सूची में स्थान प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी 11वीं एवं 12वीं में पढ़ाएंगे। इसी परीक्षाफल के आधार पर परीक्षार्थी कुछ माह बाद आयोजित होने वाले शिक्षकों नियोजन के सातवें चक्र में शामिल हो सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.