बिहार के चीफ सेक्रेटरी त्रिपुरारी शरण को मिला तीन महीने का अवधि विस्तार, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

बिहार के वर्तमान मुख्‍य सचिव त्रिपुरारी शरण इसी 30 सितंबर को रिटायर हाेने जा रहे थे। इस बीच मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार ने उनकी सेवा के अवधि विस्तार के लिए केंद्र को प्रस्‍ताव भेजा था। उस प्रस्‍ताव को मंजूरी मिल गई है।

Amit AlokTue, 21 Sep 2021 03:29 PM (IST)
बिहार के मुख्‍य सचिव त्रिपुरारी शरण। फाइल तस्‍वीर।

पटना, राज्य ब्यूरो। पटना सचिवालय के गलियारे में अगले मुख्‍य सचिव की चर्चा पर विराम लग गया है। अब वर्ष 2022 के जनवरी में ही बिहार को नया मुख्य सचिव मिलेगा। वर्तमान मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण (Tripurari Sharan) को फिर तीन महीने के लिए अवधि विस्तार मिल गया है। राज्य की नीतीश सरकार (Nitish Government) ने केंद्र सरकार को इस अवधि विस्तार के लिए पत्र भेजा था। अब वे दिसंबर 2021 में सेवा‍निवृतत्‍त होंगे।

अब दिसंबर 2021 में सेवानिवृत्‍त होंगे मुख्य सचिव

मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण 1985 बैच के अधिकारी हैं। इसी वर्ष एक मई को उन्हें मुख्य सचिव बनाया गया था। उनके रिटायरमेंट की तारीख 30 जून थी। पर राज्य सरकार ने उनके एक्सटेंशन के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखा था। इस पर उन्हें तीन महीने का अवधि विस्तार दिया गया था। इस लिहाज से उन्हें 30 सितंबर को रिटायर होना था। राज्य सरकार ने पुन: केंद्र को उनके दूसरे एक्सटेंशन के लिए पत्र लिखा था, जिसके आधार पर उन्‍हें तीन महीने का एक्सटेंशन मिल गया है। इस तरह अब वे दिसंबर तक सेवा में रहेंगे। इस लिहाज से बिहार का नया मुख्य सचिव अगले वर्ष जनवरी में मिलेगा। पूर्व में मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी को दो बार एक्सटेंशन दिए जाने के दृष्टांत बिहार में रहे हैं।

विकास आयुक्त को मुख्य सचिव बनाने की रही परंपरा

वर्तमान मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण को अवधि विस्तार मिलने के बाद अब अगला मुख्‍य सचिव जनवरी 2022 में हीं मिलेगा। उस वक्‍त के लिए नए मुख्य सचिव के पद के लिए कई नाम की चर्चा हैं। बिहार में यह परंपरा रही है कि विकास आयुक्त को मुख्य सचिव बनाया जाता है। यह परंपरा पर काम आगे बढ़ा तो आमिर सुबहानी (Aamir Subhani) को मुख्य सचिव का जिम्मा मिल सकता है। वरीयता के लिहाज से केवल एक अधिकारी आमिर सुबहानी से ऊपर हैं। राजस्व पर्षद के अध्यक्ष व सदस्य संजीव कुमार सिन्हा (Sanjeev Kumar Sinha) वरीयता के लिहाज से आमिर सुबहानी से ऊपर हैं। संजीव 1986 बैच के अधिकारी हैं तो आमिर सुबहानी 1987 बैच के हैं। संजीव सिन्हा अगले वर्ष मई में रिटायर करेंगे। जबकि, आमिर सुबहानी के रिटायरमेंट की तारीख 30 अप्रैल, 2024 है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.