मैं जिंदा भूत बोल रहा हूं... सुनकर डॉक्‍टर साहब को कॉल करने वाले के फूले हाथ-पांव, जानिए मामला

मौत की अफवाह उड़ाने पर डॉक्‍टर ने जताई नाराजगी। प्रतीकात्‍मक फोटो

नालंदा जिले के हिलसा में एक चिकित्‍सक की मौत की अफवाह उड़ा दी गई। चार दिनों से क्लिनिक बंद रहने के कारण किसी ने ऐसी अफवाह उड़ाई। इससे नाराज डॉक्‍टर साहेब ने कॉल करने वाले एक व्‍यक्ति को कहा कि वे जिंदा भूत बोल रहे हैं।

Vyas ChandraWed, 21 Apr 2021 12:34 PM (IST)

हिलसा (बिहारशरीफ) संवाद सहयोगी। किसी के बारे में अफवाह तुरंत फैल जाती है। ऐसा ही हुआ शहर के एक जाने-माने चिकित्‍सक के साथ। किसी उपद्रवी ने अफवाह उड़ा दी कि उनका निधन हो गया है। इस बात से डॉक्‍टर साहब काफी नाराज थे। इसी बीच किसी ने उनके मोबाइल पर कॉल किया तो झल्‍लाए डॉक्‍टर साहब ने कहा... मैं जिंदा भूत बोल रहा हूं। यह सुनकर ग्रामीण हक्‍का-बक्‍का रह गया। खैर डॉक्‍टर साहब सही-सलामत हैं। वे सपरिवार स्‍वस्‍थ हैं।

चार दिनों से नहीं खोली थी क्लिनिक

गौरतलब हो कि नगरनौसा थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव के रहने वाले डॉ शिवकुमार प्रसाद हिलसा शहर के सैदा बाजार नवीन नगर मोहल्ले में रहते हैं। यहां वे करीब पांच दशक से सपरिवार रहते हैं। अपने घर में क्लीनिक खोलकर सेवाभाव से उपचार करते रहे हैं। कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण चार दिनों से उन्‍होंने क्‍ल‍िनिक नहीं खोली। इस पर किसी शरारती तत्‍व ने खबर उड़ा दी कि उनकी मौत हो गई। बात तेजी से फैल गई। हिलसा शहर ही नहीं आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में भी आग की तरह खबर फैला दी गई। इस बीच मंगलवार को एक ग्रामीण ने डॉक्टर प्रसाद के मोबाइल पर कॉल किया। कॉल रिसीव करते ही उन्‍होंने कहा कि मैं जिंदा भूत बोल रहा हूं। वे अफवाहों से काफी नाराज थे। बाद में नाराजगी शांत होने पर उन्‍होंने कॉल करने वाले को पूरी बात बताई। कहा कि वे कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षित हैं। अपने परिवार के साथ पटना में हैं।

हिलसा प्रखंड में 18 मिले कोरोना संक्रमित

मालूम हो कि हिलसा में मंगलवार को हुई  90 लोगों की जांच में 18 लोग संक्रमित पाए गए। हिलसा अनुमंडलीय अस्पताल में उपाधीक्षक राजकिशोर राजू के नेतृत्व में 64 लोगों की जांच हुई, जिसमें 14 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। दूसरी ओर प्रखंड स्वास्थ्य केंद्र में हेल्थ मैनेजर पुष्पा कुमारी के नेतृत्व में 90 लोगों की कोविड-19 संक्रमण की जांच की गई। जिसमें 4 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। यानी कुल 154 लोगों में से 18 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं।

झारखंड विधानसभा के प्रशासी पदाधिकारी, शिक्षक, रेलकर्मी समेत पांच की मौत

गौरतलब है कि नालंदा जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्‍या तेजी से बढ़ती जा रही है। जिले में मंगलवार को भी पांच लोगो की मौत हो गई। इनमें प्रशासनिक अधिकारी, शिक्षक व रेलकर्मी शामिल हैं। झारखंड विधानसभा में तैनात जल संसाधन विभाग के प्रशासी अधिकारी की मौत कोरोना से हो गई। वे नालंदा के नूरसराय के निवासी थे। इसी तरह एकंगरसराय निवासी व नूरसराय प्राथमिक विद्यालय ककैला में पदस्थापित शिक्षक की कोरोना  से मौत हो गई। मंगलवार को भी एकंगरसराय में जांच में 16 लोग पॉजिटिव पाए गए। जिले भर में एंटीजन, ट्रूनेट व आरटीपीसीआर की जांच रिपोर्ट में कुल 390 लोग पॉजिटिव मिले हैं। इनमें बिहारशरीफ प्रखंड में 97 लोग शामिल हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.