Bihar Politics: टिकट के लिए पैसे लेने के आरोप पर बोले तेजस्वी- एक सवाल का जवाब मिले तो पता चल जाएगी सच्चाई

Bihar Politics टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये लेने के आरोप में मुकदमा दर्ज करने के आदेश पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपना पक्ष रखा है। उन्होंने कहा है कि पांच करोड़ रुपये कहां से लाए इस सवाल का जवाब मिले तो सच्चाई सामने आ जाएगी।

Akshay PandeyMon, 20 Sep 2021 10:30 PM (IST)
राष्ट्रीय जनता दल विधायक तेजस्वी यादव। जागरण आर्काइव।

राज्य ब्यूरो, पटना। Bihar Politics लोकसभा चुनाव (Lok Shabha Election) में टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये लेने के आरोप में मुकदमा दर्ज करने के आदेश पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने अपना पक्ष रखा है। उन्होंने कहा कि पूरे मामले की निष्पक्ष और ईमानदारी से जांच होनी चाहिए। मुझ पर आरोप लगाने वाले से यह भी पूछा जाना चाहिए कि उन्होंने पांच करोड़ रुपये कहां से लाए। इस सवाल का जवाब मिले तो सच्चाई सामने आ जाएगी।

ऐरा-गैरा के आरोप पर कुछ नहीं कहना

दो दिनों तक रांची में विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करने के बाद सोमवार को देर शाम पटना लौटे तेजस्वी ने मीडिया के सवालों पर कहा कि ऐरा-गैरा शख्स अगर केस करता है तो इस पर मुझे कुछ नहीं कहना है, किंतु आपको इतना जरूर जानकारी ले लेनी चाहिए कि उन्होंने इतने पैसे कहां से लाए? तेजस्वी ने कहा कि कानून अपना काम करेगा। अगर आरोप झूठा साबित होता है तो आरोप लगाने वाले पर भी गंभीर कार्रवाई की जानी चाहिए। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि आरोप लगाने वाले तो कुछ भी कह सकते हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान मेरे पर हत्या का भी आरोप लगाया गया। मैं तो चुनाव में मुख्यमंत्री का प्रत्याशी भी था। जदयू अध्यक्ष ललन सिंह के बयान (सबसे ज्यादा नौकरी राजग सरकार में दी गई) पर तेजस्वी ने कहा कि उनसे पूछा जाना चाहिए कि पक्की नौकरियां कितनी दी गईं। लालू-राबड़ी की सरकार में सबसे ज्यादा पक्की नौकरियां दी गईं। 

जानें क्या है मामला

बता दें कि मामला लोकसभा चुनाव में टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये ठगने का है। कांग्रेस नेता व अधिवक्ता संजीव कुमार सिंह ने पटना के सीजेएम की अदालत में 18 अगस्त को एक परिवाद पत्र दायर किया था। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती, तेजस्वी यादव बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा समेत छह लोगों पर एफआइआर दर्ज करने का पटना सिविल कोर्ट ने आदेश दिया गया है। आरोप है कि लोकसभा चुनाव के दौरान टिकट देने के नाम पर पांच करोड़ रुपये मांगे गए थे। 

यह भी पढ़ें

लालू यादव के विधायक बेटे तेजस्वी, सांसद बेटी मीसा और बिहार कांग्रेस अध्यक्ष समेत छह पर FIR का आदेश

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.