Bihar Politics: तेजस्‍वी ने फिर उठाई निजी क्षेत्र में आरक्षण की मांग, BJP-JDU को बताया दलित विरोधी

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव। फाइल फोटो

आरजेडी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने निजी क्षेत्र में आरक्षण की मांग को दोहराया है। उनका उन्‍होंने कहा कि अगर उनकी सरकार होती तो यह मांग पूरी हो जाती।

Shubh Narayan PathakSun, 07 Mar 2021 07:22 AM (IST)

पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Politics: संत शिरोमणि रविदास की जयंती (Saint Ravidas Jayanti) के मौके पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Leader of opposition in Bihar Legislative Assembly Tejaswi Yadav) ने निजी क्षेत्र में भी आरक्षण (Reservation in private sector) की मांग की। उन्होंने केंद्र सरकार पर संविधान के साथ आरक्षण को भी खत्म करने का आरोप लगाया और कहा कि जिन सरकारी संस्थानों में आरक्षण लागू है, उन्हें निजी हाथों में बेचा जा रहा है। रविदास चेतना मंच के तत्वावधान में कार्यक्रम का आयोजन राजद (RJD) नेता तेजस्वी यादव के सरकारी आवास में किया गया था। अध्यक्षता पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम ने की और संचालन सूबेदार दास ने किया।

केंद्र और राज्‍य सरकार को बताया आरक्षण विरोधी

तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारी सरकार होती तो अधिकतर मांगें पूरी हो जाती। केंद्र एवं राज्य सरकार आरक्षण और दलित विरोधी है। राजद अगर सड़क पर नहीं उतरता तो एससी/एसटी एक्ट बदल दिया जाता। रेलवे, बीएसएनएल, एयर इंडिया जैसे अधिकतर उपक्रमों का निजीकरण किया जा रहा है।

रविदास की परंपरा को आगे बढ़ा रहे हैं लालू यादव

राजद के राष्ट्रीय महासचिव भोला यादव ने कहा कि संत रविदास, अंबेडकर, लोहिया, ज्योतिबा राव फुले एवं महात्मा गांधी ने जिस लड़ाई की शुरुआत की, उसे लालू प्रसाद लड़ते आ रहे हैैं। इसी का नतीजा है कि उन्हें यातनाएं झेलनी पड़ रही हैं। कार्यक्रम को पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी एवं राजद के प्रदेश प्रधान महासचिव आलोक मेहता ने भी संबोधित किया। शिवचंद्र राम ने कहा कि लालू प्रसाद के संघर्ष का ही नतीजा है कि समाज में दलितों को उभरने का मौका मिला।

कार्यक्रम को इन्‍होंने भी किया संबोधित

कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में राष्ट्रीय प्रवक्ता नवल यादव, विधायक सतीश कुमार दास, रणविजय साहू, सुरेंद्र राम, संगीता देवी, राजेंद्र राम, सुबेदार दास, लालबाबू राम, चंदन राम, मुकेश रौशन, मनोज यादव, आरती देवी एवं प्रमोद कुमार सिन्हा सहित कई थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.