Rajya Sabha Election: NDA से सुशील मोदी ने किया नामांकन, महागठबंधन के प्रत्‍याशी पर सस्‍पेंस कायम

राज्‍यसभा के लिए नामांकन करते बीजेपी प्रत्‍याशी सुशील मोदी। तस्‍वीर: जागरण

Bihar Rajya Sabha Election बीजेपी नेता सुशील मोदी ने आज एनडीए की तरफ से राज्‍यसभा सीट के लिए नामांकन किया। इस बीच महागठबंधन के प्रत्‍याशी को लेकर सस्‍पेंस बरकरार है। संभव है कि महागठबंधन इस चुनाव में अपना प्रत्‍याशी ही नहीं दे।

Publish Date:Wed, 02 Dec 2020 07:53 AM (IST) Author: Amit Alok

पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो। Bihar Rajya Sabha Election भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री (Ex Dy.CM) सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने बुधवार की दोपहर 12.30 बजे राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की तरफ से (NDA) राज्यसभा उपचुनाव (Rajya Sabha ByElection) के लिए नामांकन (Nomination) किया। नामांकन के वक्‍त उनके साथ मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) भी मौजूद रहे। इस बीच विपक्षी महागठबंधन (Mahagathbandhan) के प्रत्‍याशी को लेकर सस्‍पेंस बरकरार है। महागठबंधन की तरफ से राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) ने लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के संस्‍थापक रहे राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) की पत्‍नी रीना पासवान (Reena Paswan) को प्रत्‍याशी बनाने का ऑफर दिया था, जिसे पार्टी के अध्‍यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने ठुकरा दिया है। यह सीट राम विलास पासवान के निधन के बाद खाली हुई है। कहा जा रहा है कि महागठबंधन की तरफ से श्‍याम रजक (Shyam Rajak) को प्रत्‍याशी बनाया जा सकता है। वैसे, सुशील मोदी की जीत तय देखते हुए महागठबंधन प्रत्‍याशी नहीं देने पर भी विचार कर रहा है।

बुधवार को सुशील मोदी ने किया नामांकन

सुशील मोदी नामंकन के पहले पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पहुंचे। वहां से वे उपमुख्यमंत्री तारकेश्वर प्रसाद और रेणु देवी तथा वरिष्ठ मंत्री मंगल पांडेय, 'हम' प्रमुख जीतन राम मांझी और वीआईपी प्रमुख मुकेश साहनी के साथ संयुक्त रूप से पटना प्रमंडलीय आयुक्त कार्यालय के लिए रवाना हुए। वहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में सुशील मोदी नामांकन ने पत्र दाखिल किया। कोरोना से बचाव की गाइडलाइन के तहत उनके साथ चार लोगों को नामांकन कक्ष में प्रवेश की अनुमति दी गई। इसके अलावा पांच प्रस्तावक भी नामांकन कक्ष में गए। नामांकन के बाद उन्‍होंने एनडीए के सभी घटक दलों को सहयोग के लिए धन्‍यवाद दिया।

महागठबंधन चाहता है रीना बनें प्रत्‍याशी

इस बीच विपक्षी महागठबंधन ने राम विलास पासवान के निधन से खाली हुई सीट पर उनकी पत्‍नी रीना पासवान को  मैदान में उतारने का फैसला किया। पार्टी ने इसके लिए महागठबंधन के ऑफर की पुष्टि करते हुए बताया कि चिराग पासवान ने इसे खारिज कर दिया। आरजेडी व कांग्रेस अंतिम समय तक बीजेपी से भी रीना पासवान को ही राज्‍यसभा प्रत्‍याशी बनाने का आग्रह करते रहे।

श्‍याम रजक की चर्चा के बीच सस्‍पेंस कायम

सूत्र बताते हैं कि महागठबंधन की तरफ से चिराग पासवान को मनाने की कोशिशें अंतिम समय तक चलती रहीं, लेकिन वे नहीं माने। अब महागठबंधन का उम्‍मीदवार कौन होगा, इसका खुलासा अभी तक नहीं हो सका है। सूत्र बताते हैं कि आरजेडी श्‍याम रजक को मैदान में उतार सकता है। दलित नेता के निधन से खाली हुई सीट पर दलित नेता को मैदान में उतारने तथा पार्टी के समाजिक समीकरणों के लिहाज से श्‍याम रजक फिट बैठते हैं। हालांकि, श्‍याम रजक खुद इसकी जानकारी से इनकार करते हैं। वे कहते हैं कि एनडीए इस सीट पर पासवान की पत्‍नी रीना पासवान को प्रत्‍याशी बनाए। राज्‍यसभा चुनाव में वोटों के गणित के अनुसार एनडीए की तय जीत को देखते हुए संभावना यह भी है कि महागठबंधन कोई उम्‍मीदवार ही नहीं दे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.