पुलवामा आतंकी हमले पर बिहार में बोले PM मोदी: आपकी तरह मेरे दिल में भी लगी है आग

पटना [जेएनएन]। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बिहार को 33 हजार करोड़ से अधिक की योजनाओं का तोहफा दिया। इसके लिए वे विशेष विमान से पटना एयरपोर्ट, फिर एयरपोर्ट से वे बरौनी पहुंचे। वहां उन्‍होंने सबसे पहले बरौनी रिफाइनरी की क्षमता विस्‍तार परियोजना का शिलान्‍यास किया। फिर, एक-एक कर अन्‍य योजनाओं का भी शिलान्‍यास व उद्घाटन किया।
इस अवसर पर उन्‍होंने बिहार के विकास के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई। साथ ही जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएम जवानों की शहादत पर कहा कि इस घटना से उनके दिल में भी आग लगी हुई है।
इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पटना एयरपोर्ट पर राज्‍यपाल लालजी टंडन, मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने स्‍वागत किया। इसके बाद प्रधानमंत्री हेलीकॉप्‍टर से बरौनी पहुंचे। प्रधानमंत्री के साथ राज्यपाल लालजी टंडन, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी भी पहुंचे। वहां पहले से केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, रविशंकर प्रसाद, रामकृपाल यादव, अश्विनी चौबे तथा गिरिराज सिंह सहित कई मंत्री पहले से उपस्थित रहे।

पीएम मोदी बोले: बिहार में आगे निकलने की ताकत
बरौनी में 33 हजार करोड़ की विभिन्‍न परियोजनाओं का शिलान्‍यास व उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मैथिली में अभिवादन के साथ अपना संबोधन शुरू किया।
उन्‍होंने बेगूसराय के सिमरिया धाम तथा श्रीकृष्‍ण सिंह व राष्‍ट्रकवि दिनकार की पवित्र माटी को प्रणाम करते हुए अपनी बात श्‍ुारू की। जननायक कर्पूरी ठाकुर को भी उनकी पुणतिथि पर प्रणाम किया। बेगूसराय के दिवंगत भाजपा सांसद भोला बाबू को याद करते हुए कहा कि अगर आज वे होते तो बहुत प्रसन्न होते।
हाल में पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले में देश के लिए बलिदान देने वाले पटना के संजय कुमार व भागलपुर के रतन कुमार ठाकुर को श्रद्धांजलि दी तथा उनके शोक संतप्‍त पीिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की। उन्‍हाेंने कहा कि वे देख रहे हैं कि घटना के कारण लोगाें के दिलो में आग है। ये अाग बुझनी नहीं चाहिए। जो आग लोगाें के दिलों में है, वही मेरे दिल में भी है। बिहार के दोनों शहीद सपूतों को मेरा नमन है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार में एक-एक कर परियोजनाओं की शुरुआत हो रही है। वह दिन दूर नहीं जब बिहार देश को रफ्तार देने वाला अहम क्षेत्र बन जाएगा। हम बिहार समेत पूर्वोत्‍तर भारत के विकास के लिए अग्रसर हैं।
बिहार और पूर्वी भारत में अन्य क्षेत्रों की तरह ही आगे निकलने की ताकत है। केंद्र सरकार इसके लिए लगातार पहल कर रही है। वह दिन दूर नहीं, जब ये क्षेत्र भी विकास करेंगे और इलाके का कायाकल्प होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि राजग की विकास यात्रा और योजनाओं का विजन दो पटरियों पर एक साथ चल रहे हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि बरौनी का खाद कारखाना बिहार केसरी श्रीकृष्‍ण सिंह को हमारी नम्र श्रद्धांजलि है।
खाद कारखानों से किसानों को खाद और युवाओं को रोगजार भी मिलेगा। बरौनी की परियोजना जो बंद पड़ी थी, उसे जीवित किया गया और इस कड़ी में कई और योजनाएं भी हैं।
साथ ही बरौनी रिफाइनरी से कच्‍चे तेल शोधन की क्षमता बढ़ेगी। इससे नेपाल तक को फायदा होगा। पटना में गैस पाइपलाइन का उद्घाटन हो गया है। गैस परियोजनाओं से युवाओं को रोजगार मिलगा।
प्रधानमंत्री ने कहा कि उर्जा गंगा परियोजना लोगों के जीवन में परिवर्तन आएगा। गैस आधारित अर्थव्यवस्था व स्‍वच्‍छ शहर हों, इसपर सरकार लगातार ध्यान दे रही है। पटना में सीएनजी रिफिलिंग सेंटर बनाए गए हैं। पाइपलाइन से गैस आपूर्ति‍ होगी। सीएनजी से गाड़ी चलाने का अर्थव्यवस्था और पर्यावरण दोनों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।
कहा कि अगले 10 साल में साढ़े सात लाख रुपए किसानों के खाते में सीधे जमा किए जाएंगे। बिना बिचौलिए सीधे खाते में मिलने वाले इस रुपयों से किसानों को सीधा फायदा होगा।
प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार के 27 शहरों को आधुनिक सुविधाओं से जोड़ा जा रहा है। मेट्रो से पटना का भी तेजी से विकास होगा। पटना की मेट्रो परियोजना को भविष्य को ध्यान में रखते हुए विकसित किया जा रहा है। रेल के साथ-साथ शहर में भी स्मार्ट ट्रैफिक सिस्टम की योजना बनाई जा रही है। पटना रिवर फ्रंट से पर्यटकों को मदद मिलेगी।
प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्‍य में 18 लाख घर बन चुके हैं। इनमें 50 हजार से अधिक बेगूसराय में बने हैं। बिहार के छपरा और पूर्णिया में नए मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं, कई को अपग्रेड किया जा रहा है। सरकार गरीबों के इलाज के लिए भी मुकम्‍मल व्‍यवस्‍था में ल्रगी है। ऐसे गरीब अपने बच्चों की परवरिश के लिए अपना रोग छिपाये रहते हैं।
प्रधानमंत्री ने सवर्ण आरक्षण की भी चर्चा की। कहा कि हमारी सरकार ने सवर्ण वर्गके गरीबों को 10 फीसद आरक्षण दिया है। यह आरक्षण किसी अन्‍य के आरक्षण केा प्रभावित किए बिना दिया गया है।
सीएम नीतीश ने कही ये बात
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वे बिहार की ऐतिहासिक भूमि पर बिहारवासियों व बिहार सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री का स्‍वागत व अभिनन्‍दन करते हैं। 12 करोड़ की बिहार की आबादी है। पटना में मेट्रो रेल प्रोजेक्‍ट की सबाें की इच्‍छा थी। हमने प्रयास किया और प्रधानमंत्री का समर्थन मिला। अब यह सपना साकार होगा। बरौनी में फर्टिलाइजर फैक्‍ट्री फिर से खोलने के लिए प्रधानमंत्री को धन्‍यवाद। उन्‍होंने बरौनी में उर्वरक व तेल कारखाना शुरू करने में श्रीकृष्‍ण सिंह के योगदान को याद किया। साथ ही इतनी बड़ी संख्‍या में योजनाओं के उद्घाटन व शिलान्‍यास के लिए प्रधानमंत्री को धन्‍यवाद दिया।
मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि पुलवामा में आतंकियों की हरकत का देश जबरदस्‍त बदला लेगा। प्रधानमंत्री ने स्‍पष्‍ट कहा है कि इस घटना के लिए देश आतंकियों को माफ नहीं करेगा। घटना में बिहार के भी दो जवान शहीद हुए हैं और एक अभी भी घायल हैं। हम बिहारवासी घटना में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देते हैं। बिहार के जो जवान शहीद हुए हैं, उनके परिजनों को हम कष्ट नहीं होने देंगे।
सुशील मोदी ने किया प्रधामंत्री कर स्‍वागत
कार्यक्रम में प्रधानमंत्री का स्‍वागत उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने किया। उन्‍होंने कहा कि बिहार केसरी श्रीकृष्‍ण सिंह के सपनों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरा कर रहे हैं।
पासवान बोले: मोदी फिर बनेंगे प्रधानमंत्री
रामविलास पासवान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्‍व में द्रुत गति से विकास हो रहा है। हमें नरेंद्र मोदी पर नाज है। नरेंद मोदी फिर प्रधानमंत्री बनेगे।
लगे 'भारत माता की जय' के नारे
बरौनी में प्रधानमंत्री को देखने व सुनने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। कार्यक्रम में 'नमो अगेन' लिखा टी-शर्ट पहन कर कुछ लोग पहुंचे। कार्यक्रम स्‍थल पर 'भारत माता की जय' के नारे लगाए गए।

इन योजनाओं का प्रधानमंत्री ने किया शिलान्‍यास
- बरौनी रिफाइनरी की क्षमता विस्तार योजना के तहत नौ मिलियन मीट्रिक टन प्रति वर्ष एवीयू की योजना का शिलान्यास। इसके माध्यम से पूर्वी भारत में पेट्रो उत्पादों की बढ़ती मांग को पूरा किया जाएगा।
- बरौनी रिफाइनरी में एटीएफ हाइड्रोलिक यूनिट का भी शिलान्यास। अमोनिया-यूरिया उर्वरक कांप्लेक्स का भी शिलान्यास।
- पटना मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास। पटना जू के पास रिमोट से शिलान्यास।
- सीवरेज परियोजनाओं का शिलान्यास। पटना के करमली चक में सीवरेज नेटवर्क योजना स्थापित करने को केंद्र में रख 96.54 किमी लंबे नेटवर्क बिछाने की योजना का शिलान्यास।
- बाढ़, सुल्तानगंज तथा नवगछिया में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट योजना का भी शिलान्यास।
- विभिन्न स्थानों पर 1424.14 करोड़ की लागत से 22 अमृत परियोजनाओं का शिलान्यास।
- छपरा में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास तथा भागलपुर व गया के सरकारी मेडिकल कॉलेज के उन्नयन योजना का शिलान्यास।

इन योजनाओं का किया उद्घाटन
- जगदीशपुर-हल्दिया और बोकारो-धामरा प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजना।
- पटना के शहरी क्षेत्र में 3,200 वर्ग किमी में 9.75 लाख घरों में पीएनजी तथा वाहनों के लिए सीएनजी आपूर्ति योजना का उद्घाटन।
- पटना रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना फेज-1 के तहत 16 घाटों का उद्घाटन।
- रांची-पटना एसी साप्ताहिक ट्रेन का आरंभ।
- बरौनी-कटिहार-कुमेदपुर, मुजफ्फरपुर-सुगौली बेतिया-रक्सौल, फतुुहा-इस्लामपुर व बिहारशरीफ -दनियावां सेक्शन का विद्युतीकरण।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.